भूमिहीनों को ‘किसान सम्मान’ की कोई योजना नहीं

नई दिल्लीः सरकार ने सोमवार को स्पष्ट किया कि किसानों को सालाना छह हजार रुपए की वित्तीय मदद वाली ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि’ के दायरे में भूमिहीन किसानों को शामिल करने की कोई योजना नहीं है। रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड की बैठक में शामिल होने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संवाददाताओं के एक प्रश्न के उत्तर में भूमिहीन मजदूरों को इसमें शामिल करने से इनकार करते हुए कहा ‘मनरेगा (महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी कानून) है, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना तथा अन्य कई योजनाएं पहले से हैं जिनका लाभ उन्हें मिलता है।’

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि तथा असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए पेंशन योजना से वित्तीय अनुशासन पर पडऩे वाले दबाव के बारे में पूछे जाने पर जेटली ने कहा कि हर योजना की अपनी कीमत होती है। पिछले चार-पांच साल में राजस्व संग्रह में पर्याप्त वृद्धि हुई है। इन सभी बातों को ध्यान में रखकर इन योजनाओं को मूर्तरूप दिया गया है।  

Related Stories:

RELATED ऐसा हो वर्किंग वुमेन का Diet Plan, तभी रहेगी आप स्वस्थ