सैल्फी लेने के जुनून में युवाओं की मौतों से उजड़ रहे परिवार

punjabkesari.in Tuesday, Nov 29, 2022 - 04:40 AM (IST)

मोबाइल फोन इस सदी का अभूतपूर्व चमत्कार है। यह हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन चुका है और आज विश्व में सर्वाधिक इस्तेमाल किया जाने वाला उपकरण बन गया है। नि:संदेह इसके असंख्य लाभ हैं परंतु इसका प्रयोग कहीं-कहीं हानि भी पहुंचा रहा है। उदाहरण स्वरूप इसके कारण लोगों, विशेषकर युवाओं में सैल्फी लेने का जुनून अनेक दुखद घटनाओं का कारण बन रहा है। 

इससे होने वाली मौतों के अध्ययन के बाद सामने आई एक रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा किया गया है कि भारत सैल्फी लेने के दौरान मौतों के मामले में विश्व भर में सबसे आगे है तथा रूस, अमरीका और पाकिस्तान का स्थान उसके बाद आता है : 

* 15 मई को दानापुर (बिहार) के अकिलपुर थाना क्षेत्र के पुराने ‘पीपा पुल’ पर सैल्फी लेने के दौरान गंगा नदी में डूबने से एक युवक मारा गया।
* 15 जून को जबलपुर में भेड़ाघाट के खतरनाक प्वाइंट पर सैल्फी लेते समय एक छात्रा का पैर फिसल जाने से वह पानी में गिर गई तो उसे बचाने के लिए वहां खड़े 2 युवकों ने उसके पीछे छलांग लगा दी तथा पानी के तेज बहाव में वे तीनों बह गए। 

* 3 अगस्त को ऋषिकेश-बद्रीनाथ राजमार्ग पर देवप्रयाग (उत्तराखंड) के निकट सड़क के किनारे खड़ी होकर सैल्फी लेते समय एक युवती पैर फिसलने से खाई में जा गिरी जिससे उसकी जान चली गई।
* 10 सितम्बर को उन्नाव (उत्तर प्रदेश) में गंगा नदी में सैल्फी ले रहे 5 युवकों की पांव फिसल जाने के कारण गहरे पानी में डूबने से मौत हो गई। 

* 11 सितम्बर को नालगोंडा जिले (तेलंगाना) के ‘डिंडी पुल प्रोजैक्ट’ पर सैल्फी ले रहे एक युवक की संतुलन बिगड़ने के कारण नहर में गिर जाने से जान चली गई।
* 16 अक्तूबर को पालघर (महाराष्ट्र) जिले के ‘वैतरणा पुल’ पर सैल्फी लेते समय एक 24 वर्षीय महिला और एक 15 वर्षीय किशोरी संतुलन बिगडऩे से पानी की तेज धारा में बह गईं।
* 17 अक्तूबर को लातेहार (झारखंड) में रेलवे स्टेशन के निकट ‘गला नदी’ रेलवे पुल पर सैल्फी लेने के दौरान 3 युवकों में से एक युवक का मालगाड़ी के आ जाने के कारण घबराहट में संतुलन बिगड़ गया और नदी में गिरने से उसकी मौत हो गई जबकि उसके 2 साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। 

* 11 नवम्बर को रुड़की (उत्तर प्रदेश) में शाहपुर रेलवे क्रासिंग के फाटक पर दोस्तों के मना करने के बावजूद रेल लाइन पर खड़े होकर सैल्फी लेते समय ट्रेन से कट कर एक दम्पति के इकलौते बेटे की जान चली गई। 
* 12 नवम्बर को पानीपत (हरियाणा) में रेलवे यार्ड में खड़ी मालगाड़ी पर चढ़ कर सैल्फी लेने के जुनून में हाई वोल्टेज करंट की चपेट में आकर एक 14 वर्षीय युवक अपनी जान गंवा बैठा। 
बताया जाता है कि इसे अपने फोटो खिंचवाने और वीडियो बनाने का बहुत शौक था और नए-नए तरीकों से फोटो और फिल्मी गानों पर वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर करता रहता था।
* 20 नवम्बर को फरीदाबाद (हरियाणा) में गुडग़ांव रोड पर पाली चौकी के निकट सैल्फी लेने के दौरान संतुलन बिगडऩे से खाई में गिरने से एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई। 

* 27 नवम्बर को बेलगावी (कर्नाटक) के किटवाड़ जलप्रपात में एक मदरसे की 4 छात्राएं सैल्फी लेते समय पैर फिसल जाने के कारण उसमें गिर कर बह गईं। 
* 28 नवम्बर को बरेली (उत्तर प्रदेश) के निकट उझानी में रेलवे फाटक पर आ रही रेलगाड़ी के साथ सैल्फी लेने की कोशिश के दौरान उसकी चपेट में आकर एक युवक की मृत्यु हो गई। 

युवा एवं बच्चे इस तरह सैल्फी का जुनून न पालें क्योंकि परिवार से जब उसका कोई सदस्य इस तरह हमेशा के लिए चला जाता है तो मां-बाप तथा अन्य परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ता है। युवा पीढ़ी को जोश के साथ होश कायम रखना भी बहुत जरूरी है क्योंकि उनकी छोटी सी भूल की उनके परिजनों को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है और बाद में पछताने के सिवा कुछ हाथ नहीं आता।—विजय कुमार  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Related News

Recommended News