सबरीमला: महिलाओं के प्रवेश को लेकर प्रदर्शन करने वाले 67,094 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज

तिरुवनंतपुरम: केरल पुलिस ने सबरीमला स्थित भगवान अयप्पा मंदिर में रजस्वला आयु वर्ग (10-50 वर्ष)की महिलाओं के प्रवेश को लेकर प्रदर्शन करने वाले 67,094 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं।  उच्चतम न्यायालय में दायर की जाने वाली रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने इस संबंध में गिरफ्तार किए गए लोगों की सूची भी तैयार की है। रिपोर्ट में इस मामले को लेकर राज्य में की गई हड़तालों की संख्या भी दर्ज है।  



पुलिस सूत्रों के अनुसार, सबरीमला मुद्दे परप्र दर्शन के संबंध में 17 अक्टूबर 2018 से चार जनवरी 2019 तक विभिन्न राजनीतिक दलों और संगठनों के 67,094 लोगों के खिलाफ 2012 मामले दर्ज किए हैं। इनमें सबरीमला कर्म समिति समेत हिन्दू विचारधारा वाले संगठन शामिल हैं। इन 67,094 आरोपियों में से पुलिस केवल 10,561 लोगों की पहचान भारतीय जनता पाटी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, शिवसेना, बजरंग दल, अंतराष्ट्रीय हिन्दू परिषद, कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पाटी, मुस्लिम संगठन, सोशल डेमोक्रेटिक पाटी ऑफ इंडिया के कार्यकत्ताओं या इन संगठनों से जुड़े लोगों के रूप में कर पाई है। 



गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल 28 सितंबर को सबरीमला के भगवान अयप्पा मंदिर में सभी आयु वर्ग की महिलाओं को प्रवेश देने की अनुमति दी थी। इससे पहले अयप्पा मंदिर की परंपरा के अनुसार इसमें 10 से 50 वष की आयु की महिलाओं के प्रवेश पर रोक लगी हुई थी।

Related Stories:

RELATED झूठे मामले में फंसाए लोगों ने प्रशासन से लगाई इंसाफ की गुहार