PNB घोटालाः मेहुल चोकसी पर ED का शिकंजा, खोज निकाली विदेश में छिपाई रकम

नई दिल्लीः पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले में भगोड़े आभूषण कारोबारी मेहुल चोकसी पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का शिकंजा कसता जा रहा है। ईडी की जांच में पाया गया है कि चोकसी ने पीएनबी की मुबंई शाखा से धोखाधड़ी के जरिए हासिल 3,250 करोड़ रुपए की राशि देश से बाहर भेज दी थी और उसकी दुकान से बेचे जाने वाली बेशकीमती धातुओं को ज्यादा कीमतों पर बेचने के काम में लगा था। कारोबारी ने हालांकि इन आरोपों को खारिज किया है।



करोड़ों की हेराफेरी की
दो अरब डॉलर (करीब 13,000 करोड़) की कथित बैंक धोखाधड़ी की जांच कर रही एजेंसी ने कहा है कि चोकसी ने रुपयों की हेराफेरी और अपने निजी इस्तेमाल के लिए धन को देश के बाहर भेजने के लिए कुछ मुखौटा कंपनियों का इस्तेमाल किया। प्रवर्तन निदेशालय ने अपने आरोपपत्र में कहा है कि चोकसी ने ऋण का 5.612 करोड़ अमेरिकी डॉलर नीरव मोदी और पांच करोड़ डॉलर मोदी के पिता दीपक मोदी को भेजा।



चोकसी ने सारे आरोपों को बताया झूठा
हालांकि मेहुल चोकसी ने एक नया वीडियो जारी कर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को झूठा और निराधार बताया और कहा कि ईडी ने अवैध तरीके से उसकी संपत्तियां जब्त की हैं। साथ ही, चोकसी ने सरेंडर की खबरें का भी खंडन किया है। चोकसी ने कहा है कि सीबीआई और ईडी उन्हें फंसा रही है। वीडियो में चोकसी ने कहा कि बेवजह मेरा पासपोर्ट रद्द कर दिया गया है और कोई कारण भी नहीं बताया गया। उसने कहा कि मेरा पासपोर्ट सस्पेंड है, ऐसे में सरेंडर करने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता।



इंटरपोल ने जारी किया रेड कॉर्नर नोटिस
बता दें कि नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले में आरोपी हैं। पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्‍य आरोपी नीरव मोदी के परिवार के सदस्‍यों के खिलाफ अब शिकंजा कसना शुरू हो गया है। इंटरपोल ने नीरव की बहन पूर्वी मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है। इससे पहले इंटरपोल मेहुल चोकसी और सहयोगी मिहिर भंसाली के खिलाफ भी रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर चुका है।

Related Stories:

RELATED PNB घोटाला : ईडी ने दुबई में नीरव मोदी की 11 संपत्तियां कीं कुर्क