अगर आप भी सॉफ्ट ड्रिंक पीने के शौकीन तो जरा रूकिए

बरनाला (विवेक सिंधवानी, गोयल):जिला हैल्थ अफसर द्वारा छोटे दुकानदारों, हलवाइयों व डेयरी उत्पाद के विक्रेताओं को तंदुरुस्त पंजाब मिशन के तहत चैकिंग के संबंध में परेशान किया जाता है व मल्टीनैशनल कंपनियों की अनदेखी की जानी आम बात है। इसका ताजा उदाहरण उस समय देखने को मिली जब एक मल्टीनैशनल कंपनी के साफ्ट ड्रिंक की सील पैक बोतल में गंदगी व कचरा मिला।

पेयजल खरीदने वाले तुषार शर्मा ने बताया कि उसने कोका कोला कंपनी द्वारा तैयार की गई माजा की बोतल पीने के लिए बरनाला के एक दुकानदार से खरीदी थी। जब उसे खोला तो बोतल में कचरा व गंदगी थी।दुकानदार ने कंपनी की एजैंसी की तरफ से सप्लाई देने आए उसी कंपनी के अधिकारियों से इस संबंधी बात की तो उन्होंने इस संबंधी कोई ध्यान न देते हुए उल्टा उसे (तुषार शर्मा) ही धमकाना शुरू कर दिया। तुषार शर्मा ने बताया कि यह पैकिंग जुलाई 2018 में तैयार की गई है व इसकी समाप्त अवधि 6 महीने की है।

क्या कहते हैं कंपनी के अधिकारी
जब इस संबंधी कोका कोला कंपनी द्वारा बरनाला जिले में तैनात अधिकारी सोहन खान से बात की तो उन्होंने यह कह कर अपना पल्ला झाड़ लिया कि वह इस संबंधी कुछ नहीं कह सकते हैं। 

क्या कहते हैं जिला हैल्थ अफसर
 इस बारे में जिला हैल्थ अफसर डा. राज कुमार से फोन पर बात की तो उन्होंने कहा कि वह चंडीगढ़ में हैं। सोमवार को साफ्ट ड्रिंक उपभोक्ता से मिलकर जो भी बनती कार्रवाई होगी अमल में लाई जाएगी। 

Related Stories:

RELATED क्राफ्ट हेनज का कारोबार खरीदने की तैयारी में Coca Cola