मुस्लिमों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए न्यूजीलैंड की महिलाओं ने पहना हिजाब

क्राइस्टचर्चःन्यूजीलैंड में शुक्रवार को समूचे देश की महिलाओं ने हिजाब पहनकर मुस्लिमों के प्रति एकजुटता दिखाई। एक सप्ताह पहले न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च शहर में दो मस्जिदों में एक श्वेत हमलावर के नस्ली हमले में 50 मुस्लिम मारे गए थे।


दो बच्चों की मां राफीला स्टोक्स (32) ने कहा कि इस्लाम की विचारधारा को प्रर्दिशत करने वाले इस प्रतीक को पहनकर मुझे इसके मायने पता चले और मैंने खुद को अल्पसंख्यक वर्ग का हिस्सा महसूस किया। शुक्रवार सुबह स्टोक्स ने अपने सिर को लाल और सफेद रंग के स्कार्फ से ढंक रखा था।

स्टोक्स देश की उन कई महिलाओं में से एक थीं जो ‘‘हेड स्कार्फ फॉर हार्मनी’’ मुहिम का हिस्सा बनीं और नमाज पढने आए 50 मुस्लिमों की हत्या के आरोपी ऑस्ट्रेलियाई शख्स की नफरत की भावना के खिलाफ खड़ी हुईं। महिला पुलिसकर्मियों और गैर मुस्लिम महिलाओं ने भी हिजाब पहना था। इनमें से कई महिलाओं ने पहली बार हिजाब पहना था। महिलाओं ने ट्विटर, फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया साइट पर अपनी तस्वीरें पोस्ट कीं। वेलिगटन की रहने वाली 19 वर्षीय छात्रा केट मिल्स वर्कमैन ने ट्विटर पर हिजाब पहने अपनी तस्वीर पोस्ट की।     

Related Stories:

RELATED न्यूजीलैंड की महिला क्रिकेटर ने ऑस्ट्रेलिया में ढूंढी ‘दुल्हन’