पीजीआई से बच्चा लेकर भागी महिला सोनीपत में काबू, पुलिस के सामने बदलती रही बयान(VIDEO)

सोनीपत(पवन राठी):रोहतक पीजीआई से वीरवार दोपहर को एक दिन की नवजात बच्ची का अपहरण कर भागी महिला का फोटो पुलिस ग्रुप में वायरल होने के बाद सिक्का कॉलोनी चौकी पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए उसे काबू कर लिया। महिला को दिल्ली कैंप क्षेत्र से बच्ची के साथ पकड़ा है। पकड़े जाने के बाद से महिला अपने बयान बदल रही है। मामले की सूचना के बाद पीजीआई रोहतक थाना प्रभारी व महिला पुलिस बच्ची व महिला को अपने साथ रोहतक ले गई।

रोहतक पुलिस महिला के साथ उसके पति, सास व एक अन्य को भी लेकर गई है। उनसे पूछताछ के बाद ही मामले का खुलासा हो सकेगा। मामले की सूचना मिलते ही सिक्का कालोनी चौकी में डीएसपी डा. रविंद्र, डीएसपी सुशीला, रोहतक डीएसपी सहित अन्य पुलिस कर्मी मौजूद रहे।

पुलिस विभाग के व्हाट्सएप ग्रुप में वायरल की गई थी फोटो
दोपहर को एसपीटी पुलिस के ग्रुप में एक महिला का फोटो वायरल किया गया था। जिसमें जानकारी दी गई थी कि महिला पीजीआई रोहतक से एक बच्ची का अपहरण कर फरार हुई है। जिस पर सोनीपत पुलिस भी सतर्क हो गई। वीरवार शाम को करीब साढ़े चार बजे सिक्का कॉलोनी चौकी प्रभारी अनिल कुमार अपने साथी कर्मी एचसी रमेश के साथ अपने क्षेत्र के संस्थानों में लगे सीसीटीवी जांचने के लिए निकले थे। इसी बीच दिल्ली कैंप में उन्हें एक महिला दिखाई दी।

महिला ने बदले बार-बार बयान 
महिला ने पुलिस को देखकर अपना चेहरा मोड़ लिया। जिस पर पुलिस उसके पास गई और पुलिस ग्रुप में वायरल फोटो से उसका हुलिया मिलता देख उससे गोद में लिए बच्चे के बारे में पूछताछ की, जिससे महिला ने बच्चे को अपना बताया। उस पर शक के आधार जब गहनता से पूछताछ की तो उसने अपना बयान बदलते हुए कहा कि वह अपने बच्चे को पीजीआई से लेकर आई है। फिर पुलिस ने बच्चा दिखाने को कहा तो उसने कहा कि दो बाइक सवार महिला व पुरुष उसका बच्चा छीन ले गए और उसे बच्ची देकर चले गए।



महिला के साथ उसके पति व अन्य रिश्तेदारों को भी दबोचा
जिस पर पुलिस ने तुरंत महिला पुलिस को बताकर उसे काबू कर लिया। उसे थाने में लाया गया। जहां से रोहतक पुलिस से संपर्क किया गया। रोहतक से पहुंचे पीजीआई रोहतक थाना प्रभारी प्रमोद व महिला पुलिस टीम में शामिल पूनम व उषा चौकी में पहुंचे। आरोपित महक निवासी राठधाना की है। पुलिस ने उसके पति दिनेश, सास व महिला के जानकार ककरोई निवासी एक युवक को भी चौकी में बुलवा लिया। जिसके बाद रोहतक पुलिस टीम चारों को अपने साथ लेकर रोहतक चली गई। रोहतक पुलिस उनसे पूछताछ कर कई खुलासे कर सकती है। 

पीजीआई में नवजात बच्ची चुराकर महिला हुई गायब, सीसीटीवी में कैद तस्वीर

मदद के बहाने बच्चा गोद में पकड़ा था
बता दें कि गौतम नगर निवासी मनीषा को बुधवार को पीजीआई में बच्ची को जन्म दिया था। मनीषा अपनी ननद रिकंल के साथ पीजीआई में दवाई लेने के लाइन में खड़ी थी। मनीषा की तबीयत खराब होने के कारण वह बेहोश होकर गिर गई। लाइन में आरोपित महिला महक भी खड़ी थी। उसने रिकंल से बच्ची को लेकर मनीषा को संभालने की बात कही। बच्ची को लेकर आरोपित महक फरार हो गई। रिकंल ने बच्ची व महिला ने मिली तो शोर मचाया। मामले की सूचना मिलते ही पीजीआई थाना पुलिस मौके पर पहुंची।

आरोपी महिला पीजीआई में नौकरी भी कर चुकी है
पुलिस जानकारी के अनुसार आरोपित महक करीब पांच माह पहले रोहतक पीजीआई में चतुर्थ श्रेणी की नौकरी करती थी। अस्पताल में तैनात स्टाफ उसे पहचान न ले इस लिए महक शवगृह के रास्ते से होती हुए पीजीआई से बाहर निकली। उसके बाद बस में बैठकर सोनीपत पहुंची। पीजीआई से कंबल में लपेटकर फरार होने की फोटो सोशल मीडिया व पुलिस गु्रप में वायरल हो गई। जिसके चलते आरोपित महिला को सिक्का कालोनी प्रभारी अनिल की टीम ने दबोच लिया गया।

Related Stories:

RELATED 10 वर्षीय बालक ने 7 साल की बच्ची संग किया दुराचार