ममता ने केजरीवाल, नायडू से की मुलाकात, संसद सत्र के लिए रणनीति पर हुई चर्चा

नई दिल्लीःपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को दिल्ली और आंध्रप्रदेश के अपने समकक्षों से मुलाकात कर संसद सत्र के लिए रणनीति पर चर्चा की। दिन में यहां पहुंची बनर्जी ने विपक्ष की बैठक में हिस्सा लेने के पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात की।



सूत्रों ने बताया कि दोनों नेताओं ने संसद में उठाए जाने वाले मुद्दों और अपनी-अपनी कार्य योजना पर बातचीत की। सूत्रों का कहना है कि नरेंद्र मोदी सरकार के अंतर्गत सीबीआई और आरबीआई जैसे संस्थानों के मुद्दे पर गहन चर्चा हुई। विपक्ष की बैठक के बाद बनर्जी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह से मुलाकात की। आगामी आम चुनाव में भाजपा को रोकने पर भी उनके बीच चर्चा हुई।



तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से भी मुलाकात की। आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे पर भी बनर्जी ने भाजपा नीत सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘‘ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। यह असाधारण है। हम बहुत चिंतित हैं। आरबीआई सार्वजनिक धन की संरक्षक है। सभी संस्थानों की साख बर्बाद हो रही है। यह वित्तीय और आर्थिक आपातकाल है।’’



इस बीच, तेदेपा ने कहा है कि विपक्ष द्वारा उठाए गए महत्वपूर्ण मुद्दों पर केंद्र ने टालमटोल किया तो वह शीतकालीन सत्र के दौरान संसद को सही से चलने नहीं देगी। तेदेपा की संसदीय दल की बैठक में पार्टी के अध्यक्ष और आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री नायडू ने मंगलवार से शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र के दौरान उठाए जाने वाले विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।



गुंटुर से तेदेपा सांसद गल्ला जयदेव ने बैठक के बाद कहा, ‘‘सभी विपक्षी दलों ने साथ मिलकर काम करने का फैसला किया है। हमने 12 दिसंबर से कई तरह के प्रदर्शन करने का फैसला किया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सत्र सुचारू नहीं चलने वाला क्योंकि हम कई मुद्दों को उठाएंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर सरकार ने सहयोग किया तो संसद चलेगा। अगर वे चर्चा की अनुमति देंगे तो सुगमता से चलेगा। अगर वे टालमटोल करेंगे तो विपक्षी दल ऐसा नहीं होने देंगे।’’           

Related Stories:

RELATED बंगाल से TMC को उखाड़ फेंकेंगे, ममता ने घोंटा लोकतंत्र का गला: शाह