शीतकालीन गद्दीस्थल से रवाना हुई द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर की डोली, 21 मई को खुलेंगे कपाट

रुद्रप्रयागः उत्तराखंड में चारों धाम के कपाट खुलने के बाद अब एक के बाद एक कर पंच केदारों के कपाट खोले जा रहे हैं। चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ के कपाट खुलने के बाद अब द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर के कपाट 21 मई को खोल दिए जाएंगे।

जानकारी के अनुसार, पंच केदारों में शामिल द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर की चल विग्रह उत्सव डोली रविवार को अपने शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ से अपने धाम के लिए रवाना हो गई है। इसके बाद अपने विभिन्न पड़ावों पर श्रद्धालुओंं को दर्शन देते हुए भगवान की उत्सव डोली 21 मई को मद्महेश्वर धाम पहुंचेंगी। वहीं भगवान मद्महेश्वर धाम के कपाट आम श्रद्धालुओं के लिए विधि-विधान के साथ खोल दिए जाएंगे। इसके बाद ग्रीष्मकाल के अगले 6 महीने तक भगवान मद्महेश्वर यहीं पर श्रद्धालुओंं को दर्शन देंगे।

बता दें कि भगवान मद्महेश्वर की उत्सव डोली 21 मई को गौंडार गांव से बनातोली, खटरा, नानौ, मैखम्भा, कूनचट्टी होते हुए देवदर्शनी पहुंचेंगी। इसके बाद भगवान मद्महेश्वर की चल विग्रह डोली देवदर्शनी पहुंचने के बाद शंक ध्वनि के निमंत्रण पर ही डोली अपने धाम में प्रवेश करेंगी।
 

Related Stories:

RELATED 11 बजकर 10 मिनट पर विधि-विधान के साथ खुले द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर धाम के कपाट