रबादा का बाउंसर लगने से दर्द से कहरा रहे थे कुशल परेरा, शतक ठोक श्रीलंका को दिलाई जीत

जालन्धर : श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के बीच डरबन में हुए पहले टेस्ट मैच के दौरान तेज गेंदबाज कासिगो रबादा की बाउंसर गेंद पर श्रीलंकाई बल्लेबाज कुशल परेरा जख्मी हो गए। गेंद लगने के बाद परेरा दर्द से कहरा रहे थे लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और शतक ठोक श्रीलंका को जीत दिला दी।

दरअसल, श्रीलंका को जीत के लिए 94 रन चाहिए थे। इस दौरान 72 रनों पर खेल रहे कुशल रबादा के एक बाउंसर को रोकने के चक्कर में जख्मी हो गए। रबादा की तेज गेंद सीधे जाकर उनके दाएं हाथ की उंगली पर लगी। इससे वह करहा उठे। आनन-फानन में फिजियो को बुलाकर उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया। उपचार दौरान भी कुशल पीड़ा में दिखे। हालांकि फिजियो द्वारा पेन रिलिफ स्प्रे करने के बाद कुशल कुछ बेहतर हुए लेकिन उंगली में दर्द के कारण वह ठीक से बल्लेबाजी नहीं कर पा रहे थे। 

देखें वीडियो-

टीम के लिए अकेले ही जूझते रहे कुशाल


डरबन में पहले टेस्ट के दौरान साउथ अफ्रीका ने पहली पारी में क्वांटिम डी कुक के 80 रनों की बदौलत 235 रन बनाए थे। जवाब में श्रीलंकाई पारी डेल स्टेन के आक्रमण के आगे 191 रनों पर ढेर हो गई। इसके बाद दक्षिण अफ्रीकी टीम दूसरी पारी में फाफ डू प्लेसिस के 90 रनों की बदौलत 259 रन बनाने में कामयाब हो गई। इस तरह श्रीलंका को जीत के लिए 304 रनों की जरूरत थी। लेकिन दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों के आगे श्रीलंकाई टीम ने 218 रनों पर ही आठ विकेट गंवा दिया थे। लेकिन परेरा ने 200 गेंदों पर 12 चौके और 5 छक्के उड़ाते हुए नाबाद 153 रन की मैच विजयी पारी खेली और श्रीलंका को हारने वाली स्थिति से उबारकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन शनिवार को एक विकेट से सांसों को रोक देने वाली जीत दिला दी।

श्रीलंका ने नौ विकेट पर 304 रन बनाए और दो मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। परेरा अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी से मैन ऑफ द मैच बने। परेरा ने कैगिसो रबादा पर जैसी ही विजयी चौका मारा पूरा श्रीलंकाई खेमा इस हैरतअंगेज जीत की खुशी में उछल पड़ा। 

Related Stories:

RELATED चंबल मे डाकू जगजीवन की खूनी होली, जिसका दर्द आज भी भूल नही पाए है लोग