कुलदीप राठौर ने घेरी केंद्र और प्रदेश सरकार, बोले-शहीदों के परिजनों को मिले 1 करोड़

शिमला (योगराज):हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि पुलवामा घटना में शहीद तिलक राज के परिवार वालों को सरकार ने जो राशि देने की बात कही है वह बहुत कम है। कांग्रेस प्रदेश कमेटी ने पत्र लिखकर सरकार से मांग की है कि पंजाब व मध्यप्रदेश की तर्ज पर हिमाचल के शहीदों को 1 करोड़ की राशि मिलनी चाहिए और कम से कम 11 हजार रुपए मासिक पैंशन माता-पिता को मिले। हिमाचल वीरों की भूमि है जो मातृभूमि पर अपनी जान न्यौछावर कर रहे हैं। तिलक राज का गद्दी समुदाय का गरीब परिवार है। उसके पास खेतीबाड़ी के लिए भी बहुत कम जमीन है।

पी.एम. मोदी ने हल्के में ली आतंकवाद की घटना

उन्होंने कहा कि आतंकवाद की घटना के बाद पूरा विपक्ष सरकार के पीछे खड़ा हो गया है। आतंकी घटना की जानकारी मिलते ही राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रैस वार्ता रद्द कर दी लेकिन पी.एम. मोदी ने इस घटना को हल्के में लिया तथा घटना की सूचना के बाद भी शूटिंग में व्यस्त रहे। प्रधानमंत्री से ऐसी आशा नहीं थी, उनके इस रवैये से देश को दुख पहुंचा है और सैनिकों के उत्साह में भी कमी आई है।

आतंकी घटनाओं को रोकने में केंद्र सरकार विफल

उन्होंने कहा कि आतंकवाद चरम पर पहुंच गया है। केंद्र सरकार ने कहा था कि काला धन बंद हो गया है, जिससे आतंकवादियों को आर्थिक मदद नहीं मिलेगी और आतंकी घटनाओं पर रोक लगेगी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। केंद्र सरकार आतंकी घटनाओं को रोकने के लिए गंभीरता से काम करे। उन्होंने कहा कि आए दिन शहीद होने वाले जवानों की संख्या बढ़ रही है। इतने सीमा पर शहीद नहीं हो रहे जितने आतंकी घटना में देश के अंदर हो रहे है, जिसे रोकने में केंद्र सरकार पूरी तरह विफल रही है।

हिमस्खलन के नीचे दबे जवानों को खोज नहीं पाई सरकार

वहीं उन्होंने प्रदेश सरकार को घेरते हुए कहा कि हिमस्खलन के नीचे दबे जवानों को सरकार अब तक खोज नहीं पाई है। सरकार को एन.डी.आर.एफ. की मदद लेनी चाहिए थी लेकिन अब तक परम्परागत तरीके से बुल्डोजर से सर्च अभियान कर रही है। राज्य सरकार इस पर गंभीरता से काम करे तथा बर्फ के नीचे जीवन को बचाए। उन्होंने कहा कि काफी सालों बाद अच्छी बर्फबारी व बारिश हुई है। वहीं दूसरी ओर बर्फ से नुक्सान भी हुआ है, एन.एच. बंद पड़े हैं। बार-बार मौसम विभाग के चेतावनी देने के बाद भी राज्य सरकार ने कोई पुख्ता कदम नहीं उठाए। मरीज व गर्भवती महिलाएं अस्पतालों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। सरकार अवरुद्ध मार्गों को खोलने में विफल है। कई क्षेत्र बिजली से कटे हैं, सरकार का इस ओर भी कोई ध्यान नहीं है।

कैबिनेट को स्वाइन फ्लू तो आम जनता की क्या हालत होगी

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों के घरों में भाजपा का झंडा फहराने की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की है, जिसकी शिकायत कांग्रेस पार्टी चुनाव आयोग से करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार सम्मेलनों में व्यस्त है और स्वाइन फ्लू से कई मौतें हो गई हंै। राज्य व केंद्र दोनों जगह हिमाचल के स्वास्थ्य मंत्री हैं फिर भी कोई रोकथाम नहीं हो रही है। कैबिनेट को स्वाइन फ्लू होने से इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि आम जनता की क्या हालत होगी।

प्रियंका गांधी पर आर.एस.एस. व भाजपा की टिप्पणी अशोभनीय

उन्होंने कहा कि भाजपा सांसदों के खिलाफ भी आम लोगों में रोष है। सांसदों द्वारा गोद लिए गांवों में कोई तरक्की नहीं हुई है। प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में आने के बाद यू.पी. में लोग उमड़ कर सड़कों पर आए हैं। लोग प्रियंका गांधी में इंदिरा गांधी को देखते हैं। आर.एस.एस. और भाजपा द्वारा प्रियंका गांधी पर टिप्पणी करना अशोभनीय है।

Related Stories:

RELATED कुलदीप राठौर ने साधा निशाना, बोले-BJP का 5 साल का कार्यकाल पूरी तरह से निराशाजनक