साध्वी प्रज्ञा के बहाने कांग्रेस का निशाना, अगर गोडसे जिंदा होता तो BJP उसे भी खड़ा करती चुनाव में

मुंबईः महाराष्ट्र कांग्रेस ने मालेगांव विस्फोट की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लोकसभा चुनाव का टिकट देने पर भाजपा पर शनिवार को निशाना साधा और कहा कि अगर महात्मा गांधी का हत्यारा नाथूराम गोडसे जीवित होता तो सत्तारूढ़ पार्टी उसे भी चुनाव में खड़ा कर देती। जमानत पर चल रही ठाकुर अपने बयान को लेकर निशाने पर है कि तत्कालीन महाराष्ट्र आतंकवाद रोधी दल के प्रमुख करकरे 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले में इसलिए मारे गए क्योंकि मालेगांव विस्फोट की जांच के समय उन्हें ‘यातनाएं' देने के लिए उन्होंने करकरे को श्राप दिया था। महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि भाजपा बेशर्मी से ऐसे व्यक्ति की उम्मीदवारी का समर्थन कर रही है जो आतंकवाद और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों की आरोपी है।

उन्होंने कहा कि जवानों के बलिदान पर वोट मांग रहे भाजपा के स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस को उनके बयान के बाद देश से माफी मांगने की जरुरत महसूस नहीं हुई। उन्होंने करकरे के खिलाफ टिप्पणियों के बाद आक्रोश के बावजूद ठाकुर को ना हटाने के लिए भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि यह दिखाता है कि पार्टी आतंकवाद का समर्थन करती है।

Related Stories:

RELATED साध्वी प्रज्ञा को लेकर ये क्या बोल गए कांग्रेस नेता