तीसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार थमा,16 राज्यों की 117 सीटों पर मंगलवार को  मतदान

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 16 राज्यों की 117 सीटों और ओडिशा विधानसभा की 42 सीटों पर मंगलवार को होने वाले मतदान के लिए चुनाव प्रचार रविवार शाम पांच बजे थम गया। धीरे-धीरे गर्मी बढ़ने का कई राज्यों में चुनाव प्रचार पर असर देखने को मिला जबकि पर्वतीय राज्यों में मौसम अच्छा होने के कारण चुनाव प्रचार में अधिक उत्साह देखा गया। चुनाव प्रचार के दौरान कई रैलियां, रोड शो और जनसभाएं आयोजित की गयीं तथा झंडे और पोस्टर भी प्रदर्शित किए गए। उम्मीदवारों ने घर-घर जाकर मतदाताओं को लुभाने की भी कोशिश की। यह 17वीं लोकसभा के लिए हो रहे चुनाव का सबसे बड़ा चरण है। 

सोलह राज्यों की 117 सीटों के लिए होने वाले मतदान को देखते हुए विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने चुनाव प्रचार में जमकर भाग लिया। ओडिशा विधानसभा की 147 सीटों में से 42 पर तीसरे चरण में संबंधित लोकसभा सीटों के साथ ही मतदान कराए जाएंगे। तीसरे चरण के साथ ही दक्षिण भारत में चुनाव पूरी तरह समाप्त हो जााएगा। इस चरण में लोकसभा की 117 सीटों पर 1630 से अधिक प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड़ सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव और उनके कुनबे को सियासी इम्तिहान से गुजरना है। उत्तर प्रदेश की जिन 10 लोकसभा सीटों पर चुनाव होने हैं, वहां गठबंधन के तहत नौ सीटों पर सपा मैदान में है जबकि एक सीट पर बहुजन समाज पार्टी चुनाव लड़ रही है। इस चरण में पूरी तरह से अखिलेश यादव बनाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच राजनीतिक लड़ाई लड़ी जा रही है।

तीसरे चरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी, सपा नेता मुलायम सिंह यादव, बसपा प्रमुख मायावती, तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तथा अन्य स्टार प्रचारकों ने विभिन्न क्षेत्रों में अपनी-अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के पक्ष में धुआंधार प्रचार किया। बिहार में जनता दल (यू) के नेता एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, लोक जनशक्ति पार्टी के नेता राम विलास पासवान, उत्तर प्रदेश में बसपा प्रमुख मायावती तथा सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में विभिन्न स्थानों पर जनसभाओं को सम्बोधित किया। 

भाजपा की तरफ से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह तथा अन्य वरिष्ठ पार्टी नेताओं ने चुनाव प्रचार में हिस्सा लिया। इस चरण में पहले 14 राज्यों की 115 लोकसभा सीटों पर 23 अप्रैल को मतदान होना था। इन सीटों के अलावा दूसरे चरण की जिन दो लोकसभा सीटों पर चुनाव आयोग ने मतदान टाल दिया था, अब उस पर भी वोट डाले जाएंगे। इस तरह से 16 राज्यों की 117 सीटों पर मतदान होगा। गुजरात की सभी 26, केरल की सभी 20, महाराष्ट्र और कर्नाटक की 14-14, उत्तर प्रदेश की 10, छत्तीसगढ़ की सात, ओडिशा की छह, पश्चिम बंगाल और बिहार की पांच-पांच, असम की चार, गोवा की दोनों, जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग, दादरा एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव की एक-एक सीट शामिल है। 

इसके अलावा तमिलनाडु की वेल्लोर और त्रिपुरा की त्रिपुरा पूर्वी सीट भी शामिल है, जहां पहले दूसरे चरण में वोटिंग होनी थी। मतदान सुबह सात से शाम पांच बजे और कहीं-कहीं शाम छह बजे तक भी होगा।

Related Stories:

RELATED आखिरी चरण की पोलिंग के लिए नेहरू स्टेडियम में बांटी गई मतदान सामग्री