DM ने केदारनाथ धाम की यात्रा व्यवस्थाओं का लिया जायजा, 6 मई तक तैयारियों पूरी करने के दिए निर्देश

रुद्रप्रयागः उत्तराखंड में चारों धाम की यात्रा शुरू होने में अब कुछ ही समय शेष रह गया है। केदारनाथ धाम के कपाट 9 मई को आम श्रद्धालुओं के दर्शानार्थ खोल दिए जाएंगे। इससे पहले यात्रा व्यवस्था को सुनिश्चित करना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है।


जानकारी के अनुसार, इस साल केदारनाथ धाम में रिकॉर्ड तोड़ बर्फबारी हुई है। भारी बर्फबारी होने के कारण धाम में काफी नुकसान भी हुआ है। इतना ही नहीं अभी भी केदारनाथ धाम में 4 से 5 फीट तक बर्फ जमी हुई है। वहीं रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल अधिकारियों के साथ केदारनाथ धाम पहुंचे। इस दौरान उन्होंने यात्रा व्यवस्था का जायजा लिया।

डीएम ने बताया कि बर्फबारी के कारण केदारनाथ में भारी नुकसान हुआ है। इसके सथ ही पेयजल, स्वास्थ्य, विद्युत सहित जीएमवीएन, मंदिर समिति के हट्स और शौचालयों को भारी नुकसान पहुंचा है, जबकि अब यात्रा आरम्भ होने में कुछ ही समय शेष रह गया है। उन्होंने कहा कि यात्रा व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के लिए युद्धस्तर पर तैयारियां की जा रही हैं। इसके साथ ही संबंधित विभाग अपने-अपने स्तर पर कार्यों में जुटे हुए हैं। इन अधिकारियों को 6 मई तक सभी तैयारियों को पूरा करने के निर्देश दिए गए। रामबाड़ा से केदारनाथ तक के 10 किमी. के ट्रैक पर भारी बर्फ और बड़े-बड़े ग्येशियर मौजूद होने के कारण यात्रा तैयारियों में कठिनायां आ रही हैं।

बता दें कि इस साल जहां ग्लेशियरों और बर्फ के कारण केदारनाथ पैदल मार्ग खतरनाक बना हुआ है, वहीं बर्फबारी से पैदल रास्ते पर रेंलिग टूट जाने के कारण मार्ग और भी भयानक बना हुआ है।

Related Stories:

RELATED बदमाशों ने डीएम पर किया हमला, मामले की जांच में जुटी पुलिस