चीन-ईरान ने परमाणु समझौता बचाने के लिए की बैठक

 

बीजिंगः चीन और ईरान के विदेश मंत्रियों ने तेहरान के साथ 2015 के परमाणु समझौते को बचाने के लिए मंगलवार को बैठक की। चीन के विदेश मंत्री वांग यी और ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ के बीच की वार्ता का ब्यौरा अभी पता नहीं है। ईरान के विदेश मंत्री के नेतृत्व में आए शिष्टमंडल में संसद के अध्यक्ष अली लारिजानी और वित्त एवं पेट्रोलियम मंत्री के साथ ही देश के केंद्रीय बैंक के CEO भी हैं।

जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस, चीन, रूस और यूरोपीय संघ 2015 के समझौते को बचाने के प्रयास कर रहे हैं। जबकि, अमेरिका ने पिछले साल इस समझौते से बाहर निकलने की घोषणा की थी । जरीफ ने रविवार को म्यूनिख सुरक्षा कॉन्फ्रेंस को बताया था कि ईरान के साथ सीधे वित्तीय लेनदेन से बच कर कारोबार के लिए फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटेन द्वारा पिछले महीने इन्सटेक्स नामक बार्टर जैसी व्यवस्था की शुरूआत की गयी। इसका मकसद परमाणु समझौते को कायम रखते हुए अमेरिकी प्रतिबंध से भी बचना है।

Related Stories:

RELATED सुरक्षा परिषद की बैठक से पहले चीन ने भारत से मांगे आंतकी मसूद के खिलाफ सबूत