ऐसे लोगों से दूरी बनाए रखने में ही है भलाई

ये नहीं देखा तो क्या देखा(video)
चाणक्य ने अपनी नीतियों में ऐसी बहुत सी बातों का उल्लेख किया है, जोकि लोगों के जीवन पर गहरा असर डालती हैं। कहते हैं कि अगर कोई व्यक्ति उनके द्वारा लिखी हुई नीतियों को अपना लेता है तो वह जीवन में कभी हार का सामना नहीं करता है। कई बार व्यक्ति की असफलता के पीछे कोई न कोई ऐसा दूसरा व्यक्ति भी होता है, जिससे कि उसे दूरी बनाकर रखनी चाहिए। जैसे कि चाणक्य ने अपनी नीति में बताया है कि किन 3 लोगों से दूरी बनाकर रखने में ही भलाई होती है। क्योंकि वे लोग खुद तो कुछ कर नहीं पाते, उलटा दूसरों की तरक्की में रूकावट का काम करते हैं। तो ऐसे लोगों से दूरी बनाने में ही समझदारी बताई गई है। 


श्लोकः
मूर्खशिष्योपदेशेन दुष्टस्त्रीभरणेन च ।
दुःखितैः संप्रयोगेण पण्डितोऽप्यवसीदति।।

चाणक्य के अनुसार मूर्ख व्यक्ति को कभी कोई उपदेश नहीं देना चाहिए। क्योंकि उसको समझाने में आप जितना समय नष्ट करेंगे, उसका आपको कोई फायदा नहीं होगा। उलटा उस समय में आपका नुकसान हो सकता है और जिसका असर आपकी सफलता पर पड़ेगा। 

कहते हैं दुष्ट स्त्री से हर व्यक्ति को दूरी बनाकर रखनी चाहिए। यानि जो स्त्रियां स्वभाव से बूरी होती हैं उनसे दूर रहना चाहिए। अपनी मर्यादाओं को ध्यान में नहीं रखने वाली, जोर से बोलने वाली,  बिना सोचे-समझे बोलने और काम करने वाली महिलाओं से बचकर रहना चाहिए। शास्त्रों में ऐसी महिलाएं पुरुषों से भी ज्यादा खतरनाक बताई गई हैं। 

जिन लोगों की सोच नकरात्मक होती है, वे लोग कभी अपनी जीवन में सफलता नहीं हासिल कर सकते हैं। तो ऐसे लोगों से दूर रहने में ही भलाई होती है। ये लोग खुद कुछ नहीं कर पाते, उल्टा दूसरों के हर काम में रूकावट पैदा करते हैं।  
अपनी राशि से जानें इस होली कौनसा रंग रहेगा आपके लिए Lucky(video)

Related Stories:

RELATED 120 किलोमीटर की दूरी तय कर बहन चामुंडा से मिलने चम्बा पहुंची बैरवाली माता