पेड पार्किंग ठेका रद्द करने को कंपनी ने दी हाईकोर्ट में चुनौती

चंडीगढ़(रमेश): नगर निगम द्वारा तीन दिन पहले आर्या टोल इंफ्रा कंपनी का पेड पार्किंग का ठेका रद्द करने को कंपनी ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दी है। अपील में कहा है कि निगम के अधिकारी ठान चुके हैं कि पार्किंग कांट्रैक्ट रद्द करना है, इसलिए वह तथ्यों की ओर ध्यान नहीं दे रहे और बहाने बनाकर कार्रवाई कर रहे हैं जबकि वह नगर निगम की बकाया राशि ब्याज सहित चुकाने को तैयार है। कोर्ट ने अपील स्वीकार करते हुए सुनवाई के लिए 25 फरवरी का दिन सुनिश्चित किया है। 

सफाई देने का मौका दें: कंपनी
अपील में कहा गया है कि उनका पक्ष सुना जाए और उन्हें सफाई देने का मौका दिया जाए जब तक कोई फैसला नहीं आ जाता तब तक नगर निगम चंडीगढ़ द्वारा 18 फरवरी को रद्द किए गए कांटै्रक्ट के ऑर्डर पर रोक लगाई जाए। याची के वकील सुरजीत सलारा ने बताया कि याची ने सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद ई-ऑक्शन प्रक्रिया के तहत पेड पार्किंग कांट्रैक्ट लिया था और अभी तक निगम को साढ़े 22 करोड़ दे चुका है और पार्किंग फीस भी कांट्रैक्ट के तहत ही बधाई गई थी जो कि टर्म एंड कंडीशन का हिस्सा था। 

याचिकाकर्त्ता ने 18 फरवरी को भी निगम अधिकारियों को 15.25 लाख की राशि आर.टी.जी.एस. के जरिए निगम के खाते में डालने की बात कही थी और ब्याज देने का यकीन दिलवाते हुए कांट्रैक्ट कैंसल नहीं करने को कहा था लेकिन अधिकारियों ने नहीं सुनी। कंपनी में कार्यरत 500 से अधिक कर्मी बेरोजगार हो गए जिनसे रातों-रात काम छीन लिया गया।

Related Stories:

RELATED पार्किंग ठेके से पैट्रोल चोरी होने पर कारिंदे ने की मारपीट