कक्षा नौ की पात्र छात्राओं को साइकिलें वितरित की जाएगी-डोडासरा

जयपुर: राजस्थान के शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद डोटासरा ने आज विधानसभा में कहा कि कक्षा नौ की सभी पात्र छात्राओं को नियमानुसार साइकिलों का वितरण किया जाएगा।   

डोटासरा ने सदन में प्रश्नकाल के दौरान विधायक किरण माहेश्वरी के मूल प्रश्न का जवाब देते हुए कहा कि बजट सत्र 2007-08 में घोषणा की गई कि कक्षा नौ उत्तीर्ण कर दसवीं कक्षा में प्रवेश लेने वाली ऐसी प्रत्येक छात्रा को जिसका घर सबसे नजदीक सैकेण्ड्री विद्यालय से दो किलोमीटर से अधिक दूरी पर है, को एक नई साइकिल केवल 300 रूपये में दी जायेगी तथा शेष राशि राज्य सरकार वहन करेगी। उन्होंने कहा कि साथ ही पांच या इससे अधिक छात्राओं के समूह को आवागमन के लिए ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना की सुविधा दी गई।   

उन्होंने कहा कि इसके पश्चात वित्त वर्ष 2011-12 में घोषणा के अनुसार कक्षा नौ एवं दसवीं में अध्ययनरत छात्राओं को दी जाने वाली साइकिल के अंशदान की राशि 300 रूपये से घटाकर 100 रूपये की गई तथा साइकिल के स्थान पर ट्रांसपोर्ट वाउचर का लाभ दिये जाने का विकल्प भी दिया गया। वर्ष 2014-15 में घोषणा की गई कि राजकीय विद्यालयों में कक्षा नौ में प्रवेश लेने वाली छात्राओं को नि:शुल्क साइकिल वितरित किये जाने का प्रावधान किया गया।  ग्रामीण क्षेत्र में जो छात्राएं अपने निवास से पांच किलोमीटर से अधिक की दूरी से स्कूल आती हैं और साइकिल नहीं लेना चाहती, उन्हें ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का लाभ दिये जाने का प्रावधान है।  उन्होंने कहा कि राजसमंद जिले में वर्ष 2016-17 की वंचित 164 छात्राओं की विद्यालयवार सूची सदन की मेज पर रखी। उन्होंने कहा कि इन छात्राओं ने कक्षा नौ में प्रवेश विलम्ब से लिया था, जिसके प्रस्ताव समय पर प्राप्त नहीं हुए, जिस कारण इन छात्राओं को साइकिल वितरण नहीं की जा सकी। 

Related Stories:

RELATED पंजाब में लड़कियों को वितरित किए जाएंगे 1 लाख 38 हजार साइकिल: सोनी