दुश्मनों से निपटने के लिए अपनाएं ये टिप्स

ये नहीं देखा तो क्या देखा (Video)
आचार्य चाणक्य की नीतियों ने आज के समय में भी लोगों के बहुत से काम आसान किए हैं। इन नीतियों की वजह से लोगों के कामकाज और तरक्की में आ रही परेशानियां भी दूर होती हैं। चाणक्य ने अपनी नीति में ऐसी बहुत सी बातें बताई हैं जिन्हें अपनाकर व्यक्ति अपने दुश्मनों से भी निपट सकता है। उन्होंने बताया कि जो लोग किसी की नौकरी या बिज़नेस में रूकावट पैदा करते हैं, उनसे छुटकारा कैसे पाया जा सकता है। उन्होंने उनसे छुटकारा पाने के लिए 2 खास तरीके बताए हैं। तो आइए जानते हैं उनके बारे में-


श्लोक - 
खलानां कण्टकानां च द्विविधैव प्रतिक्रिया ।
उपानन्मुखभङ्गो वा दूरतो वा विसर्जनम् ॥

चाणक्य के इस श्लोक के अनुसार दुष्ट लोगों को यानि शत्रुओं और कांटे को एक समान ही समझना चाहिए। चाणक्य ने आगे उनसे छुटकारा पाने के तरीके को भी बताए है। आचार्य चाणक्य का कहना है कि दुष्ट लोगों और कांटे से 2 ही तरह से बचा जा सकता है। पहले तरीके में उन्होंने बताया है कि इनसे बचने के लिए इन्हें अपने जूतों से या जो भी साधन उस समय उपलब्ध हो उससे पूरी तरह कुचल देना चाहिए। यानि कि रास्ते में आने वाली हर समस्या को खत्म कर देना चाहिए। 

दूसरा तरीका बताया गया है कि रास्ते में अगर कोई दुश्मन दिख जाए तो कहते हैं कि उन्हें दूर से ही देखकर अपना रास्ता बदल लेना चाहिए। यानि कि इनसे पूरी तरह बचकर रहना चाहिए। इनसे किसी भी तरह का कोई मतलब नहीं रखना चाहिए। चाणक्य द्वार बताए गए इन दो तरीकों का अनाकर व्यक्ति अपनी हर समस्या से छुटकारा पा सकता है। 
ज्योतिष के अनुसार इन जगहों पर मनाएं honeymoon, married life में कभी नहीं आएगी परेशानी(video)

Related Stories:

RELATED होली के दिन भी दिखना है खास तो ट्राई करें ये 8 Fashion Tips