मैरीटोरियस के एंट्रैंस एग्जाम में एबसैंट रहे 580 परीक्षार्थी

लुधियाना (विक्की): राज्य के विभिन्न 10 जिलों में सरकार द्वारा चलाए जा रहे मैरीटोरियस स्कूलों में दाखिले के लिए रविवार को एंट्रैंस टैस्ट हुआ। पंजाब के सभी 22 जिलों के सरकारी स्कूलों में पिछले वर्ष 10वीं कक्षा की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों ने इस टैस्ट में भाग लिया। जानकारी के मुताबिक पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा कंडक्ट करवाए गए इस एंट्रैंस टैस्ट के लिए 14,025 विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन करवाई थी लेकिन सभी 34 परीक्षा केंद्रों में 13,445 परीक्षार्थी ही अपीयर होने पहुंचे। बोर्ड को विभिन्न जिलों के परीक्षा केंद्रों से मिली सूचना के मुताबिक 580 परीक्षार्थी मैरीटोरियस स्कूलों में एडमिशन के लिए एंट्रैंस देने नहीं पहुंचे। 

सोसाइटी फॉर प्रमोशन ऑफ क्वालिटी एजुकेशन फॉर पूअर एंड मैरीटोरियस स्टूडैंट्स ऑफ पंजाब द्वारा चलाए जा रहे इन स्कूलों में 11वीं साइंस व कॉमर्स की पढ़ाई के लिए कुल 4600 सीटें हैं जिन पर दाखिले के लिए 14025 विद्यार्थियों  ने रजिस्ट्रेशन करवाई थी। सोसाइटी की ओर से 10 जिलों के इन मैरीटोरियस स्कूलों में सरकारी स्कूलों के उन मेधावी विद्यार्थियों को दाखिला मिलता है जिन्होंने 10वीं कक्षा में 70 प्रतिशत अंक हासिल किए हों। इस बार बनाए गए क्रिटेरिया के मुताबिक जनरल वर्ग के लिए 70 प्रतिशत और एस.सी. व एस.टी. वर्ग के लिए 65 प्रतिशत अंक 10वीं बोर्ड परिणाम में प्राप्त करने निर्धारित किए गए हैं। 

विभागीय सूत्रों की मानें तो शनिवार शाम तक भी कई जिलों के विद्याॢथयों ने एंट्रैंस टैस्ट के लिए फीस जमा करवाई है जिसके चलते विभिन्न शहरों में स्टूडैंट्स की गिनती बढ़ी है। 

Related Stories:

RELATED 26.05% रहा SOS 10वीं का Result, इतने परीक्षार्थी हुए पास