पूर्व सीएम हरीश रावत की काफल डिप्लोमेसी

Saturday, June 10, 2017 5:37 PM
पूर्व सीएम हरीश रावत की काफल डिप्लोमेसी

देहरादून: उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज अपने कैंप कार्यालय में एक काफल चार्ट पार्टी रखी । पार्टी में राजधानी के सभी पत्रकारों को आमंत्रित किया गया। हरीश रावत का मानना है कि काफल जो कि उत्तराखंड का एक पारंपरिक फल है इसे खाने से लोगों के बीच में संबंध अच्छे विकसित होते है। अब इसको उनका मीडिया मैनेजमेंट कहे तो गलत ना होगा या फिर काफल डिप्लोमेसी दरअसल हकीकत यह है उत्तराखंड में भाजपा की सरकार जबसे प्रचंड बहुमत से विजय होकर आई है हर तरफ भाजपा के ही चर्चे हैं।

हरीश रावत को मीडिया ने कवरेज करना बंद कर दिया है या यूं कहें स्पेस मिलना कम हो गया है। जिसको लेकर मीडिया के साथ उन्होंने गेट टुगेदर किया और अपने दुख दर्द शेयर किए। आपको बताते चलें कि उत्तराखंड में नारायण दत्त तिवारी के बाद अगर सबसे ज्यादा अनुभव वाला कोई राजनीतिज्ञ है तो वह हरीश रावत है हरीश रावत को बहुत ही दूरदर्शी और सुलझा हुआ नेता माना जाता है। राजनीति के जानकार उन्हें फिर से आने वाले मुख्यमंत्री के रूप में देख रहे हैं लेकिन इतना तो तय है कि हरीश रावत ने अभी से तैयारियां करनी शुरू कर दी है हरीश रावत की बॉडी लैंग्वेज से यही प्रतीत होता है कि आने वाले 2019 और 2022 के चुनाव में उनका अहम रोल होगा।




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !