भर्ती घोटाला: सीबीआई को मंत्री और परामर्श समिति सदस्यों के बयानों में विरोधाभास मिला

punjabkesari.in Friday, May 20, 2022 - 11:12 PM (IST)

कोलकाता, 20 मई (भाषा) पश्चिम बंगाल के स्कूलों में नियुक्तियों में हुई कथित अनियमितता मामले में पूछताछ के दौरान केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों को राज्य मंत्री पार्थ चटर्जी द्वारा दिये बयानों और भर्ती की निगरानी करने वाली परामर्श समिति के सदस्यों के बयानों में विसंगतियां मिलीं। सीबीआई के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी के अनुसार, मंत्री ने सीबीआई को बताया कि उन्हें सलाहकार समिति के रोजमर्रा के कामकाज के बारे में बहुत कम जानकारी थी और इस पर उनका कोई नियंत्रण नहीं था।

बंगाल के मंत्री को अगले सप्ताह जांच एजेंसी ने फिर से तलब किया है।
अधिकारी ने बताया कि चटर्जी से बुधवार को तीन घंटे से अधिक समय तक अनियमितताओं के संबंध में पूछताछ की गई थी, जो शिक्षा मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान हुई थीं। चटर्जी वर्तमान में संसदीय मामले, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री हैं।

सीबीआई अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ''''पूछताछ के दौरान चटर्जी से राज्य के तत्कालीन शिक्षा मंत्री के रूप में अपनी भूमिका के बारे में भी बताने को कहा गया था। सलाहकार समिति के सदस्यों और मंत्री के बयानों में विरोधाभास हैं। हमें इन सवालों के जवाब प्राप्त करने होंगे। हमने चटर्जी को अगले सप्ताह फिर से तलब किया है।''''


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News