बंगाल में 78.9 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल : राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण

punjabkesari.in Tuesday, May 17, 2022 - 09:51 PM (IST)

कोलकाता, 17 मई (भाषा) पश्चिम बंगाल में 78.9 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल हैं, जो देश में सर्वाधिक है। राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण (एनएफएचएस-5) के आंकड़ों से यह पता चला है।

इस सर्वेक्षण के अनुसार देश में औसतन 50.4 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल हैं और इस मामले में उत्तर प्रदेश 75.6 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर है।

एनएफएचएस की 2019-22 की रिपोर्ट के मुताबिक, ओडिशा में 72.5 प्रतिशत परिवारों, छत्तीसगढ़ में 70.8 प्रतिशत, असम में 70.3 प्रतिशत, पंजाब में 67.8 प्रतिशत, झारखंड में 66.3 प्रतिशत और बिहार में 64.8 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, नगालैंड में सबसे कम 5.5 प्रतिशत परिवारों के पास, जबकि सिक्किम में 5.9 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, अन्य राज्यों में गुजरात में 29.9 प्रतिशत परिवारों और दिल्ली में 27.2 प्रतिशत परिवारों के पास साइकिल हैं।

पश्चिम बंगाल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार की ‘सबूज साथी’ योजना के कारण पश्चिम बंगाल शीर्ष स्थान पर है।

उन्होंने कहा , ‘‘ इस योजना के तहत नौंवी से 12 कक्षाओं तक के विद्यार्थियों को साइकिल दी जाती हैं। यही मुख्य वजह है कि पश्चिम बंगाल में हमने साइकिल उपयोगकर्ताओं में इतनी वृद्धि दर्ज की। यह योजना न केवल विद्यार्थियों बल्कि उनके परिवारों को भी मदद कर रही है।’’
इस पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘आज मैं बेहद खुश हूं।’’ एक प्रशासनिक बैठक को संबोधित करते हुए, उन्होंने खड़गपुर के विद्यासागर औद्योगिक पार्क में साइकिल निर्माण केंद्र की घोषणा की।

उन्होंने मुख्य सचिव एचके द्विवेदी को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि साइकिल निर्माण केंद्र स्थापित करने वाली कंपनियों को कोई ‘अड़चन’न हो।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News