See More

31 मार्च को उत्तराखंड के भीतर आवागमन की छूट निरस्त

2020-03-29T23:02:13.903

देहरादून, 29 मार्च (भाषा) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज कहा कि लॉकडाउन के कारण रास्ते में ही फंस गये लोगों को 31 मार्च को राज्य के भीतर एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए दी गयी छूट अब निरस्त कर दी गयी है ।
रावत ने कहा कि इस व्यवस्था को गृह मंत्रालय द्वारा रविवार जारी निर्देशों के बाद निरस्त कर दिया गया है ।
उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय के निर्देशों में एक जिले से दूसरे जिले में भी आवाजाही को रोके जाने को कहा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें देश को कोरोना से मुक्त करने के लिए और सख्ती से लॉकडाऊन को लागू करना है जिससे कुछ कष्ट हो सकता है परंतु यह हम सभी के हित में है।
रावत ने कहा, ''केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के बाद उत्तराखंड में 31 मार्च को अंतरजनपदीय परिवहन सेवा खुली रहने का आदेश वापस लिया जाता है । आप लोग जहां हैं, वहीं पर सुरक्षित रहें । आपके लिए आवश्यक वस्तुओं की उचित व्यवस्था है । आपको हुई असुविधा के लिये क्षमा चाहता हूं ।'' प्रदेश के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने भी जिलाधिकारियों को केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।

इसी बीच हिमाचल प्रदेश सरकार ने दिल्ली और चंडीगढ़ में पढाई और रोजगार धंधे के लिए रह रहे लेकिन लॉकडान के चलते फंस गये लोगों से दिल्ली और चंडीगढ में वैकल्पि व्यवस्था की है। नयी दिल्ली में हिमाचल भवन से जारी विज्ञप्ति के अनुसार ऐसे लोग दिल्ली में 9868539423 और 8802803672 तथा चंडीगढ़ में 8146313167 एवं 9988898009 पर मदद के लिए संपर्क कर सकते है।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News