आईआईएल दिसंबर से कोवैक्सीन की एक करोड़ खुराक के लिए औषधि पदार्थ का उत्पादन करेगी

09/25/2021 10:21:43 AM

हैदराबाद, 24 सितंबर (भाषा) भारत बायोटेक को कोविड-19 रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ बनाने में 20 लाख खुराकों के लिए औषधि पदार्थ की आपूर्ति करने वाली इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स लिमिटेड (आईआईएल) ने कहा है कि वह दिसंबर से एक करोड़ खुराक को लेकर जरूरी सामग्री का निर्माण करने को तैयार है। आईआईएल ने शुक्रवार को एक बयान में इसकी जानकारी दी।

रिकॉर्ड समय में टीका निर्माण की औषधीय सामग्री बनाने की क्षमता हासिल करने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी आईआईएल के प्रयासों की सराहना करते हुए केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने औपचारिक रूप से कोवैक्सिन के निर्माताओं, भारत बायोटेक को औषधि पदार्थ सौंप दिया।

विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘आईआईएल पहले ही 20 लाख खुराक के लिए औषधि पदार्थ की आपूर्ति कर चुकी है। यह पता चला है कि आईआईएल द्वारा उत्पादित औषधीय सामग्री का पहले ही बीबीआईएल (भारत बायोटेक) द्वारा टीकों में इस्तेमाल किया जा चुका है और यह उपयोग के लिए तैयार है। आईआईएल एक महीने में 30 लाख खुराक के लिए औषधीय पदार्थ का उत्पादन करेगी और दिसंबर से इसे बढ़ाकर एक करोड़ खुराक कर देगी।’’
आईआईएल के प्रबंध निदेशक आनंद कुमार ने कहा कि रिकॉर्ड समय में कोविड-19 टीके में इस्तेमाल होने वाली सामग्री का उत्पादन और वितरण आईआईएल की तकनीकी विशेषज्ञता, अत्याधुनिक निर्माण क्षमता और राष्ट्र हित के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाता है। कुमार ने कहा कि आईआईएल एक लाइव एटेन्यूएटेड कोविड​​-19 टीके भी विकसित कर रहा है, जिसके कई फायदे हैं और इसे अगले साल प्रस्तुत किया जाएगा। जानवरों पर अध्ययन पूरा कर लिया गया है और परिणाम बहुत उत्साहजनक हैं। उन्होंने कहा कि मनुष्यों पर परीक्षण भी शीघ्र शुरू होने की उम्मीद है।

भारत बायोटेक के सीएमडी कृष्णा इल्ला ने कहा कि यह आवश्यक है कि दोनों प्रतिस्पर्धी संगठन एक साथ आएं और राष्ट्रीय स्वास्थ्य के एक बड़े उद्देश्य के लिए एक-दूसरे का सहयोग करें।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News