तमिलनाडु में धार्मिक आधार पर हिंसा करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा: स्टालिन

punjabkesari.in Tuesday, May 10, 2022 - 08:28 PM (IST)

चेन्नई, 10 मई (भाषा) हिंसा को रोकने के लिए कड़े कदम उठाने की वकालत करते हुए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि राजनीतिक, धर्म या जाति के आधार पर माहौल बिगाड़ने का प्रयास करने वालों के विरुद्ध सख्ती से निपटा जाएगा।
सोशल मीडिया पर धर्म और जाति को लेकर नफरत फैलाने वाले बयानों में वृद्धि का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि नफरत फैलाने वाले तत्वों पर करीब से नजर रखी जा रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे तत्वों के विरुद्ध सरकार कार्रवाई करना जारी रखेगी।
उन्होंने कहा कि चरमपंथी इरादों को तत्काल कुचल दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस विभाग स्वतंत्र रूप से बिना किसी राजनीतिक हस्तक्षेप के कार्य कर रहा है। स्टालिन ने कहा कि धार्मिक आधार पर हिंसा करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जा रही है और राजनीतिक, धार्मिक या जातीय आधार पर माहौल खराब करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।
उन्होंने कहा, “तमिल धरती पर धार्मिक नफरत के लिए कोई जगह नहीं है।” उन्होंने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि ऐसे तत्वों को कानून के दायरे में लाया जाए।
विधानसभा में, पुलिस विभाग के लिए अनुदान की मांग पर चर्चा का जवाब देते हुए स्टालिन ने कहा कि यह राज्य सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है कि द्रमुक के शासन में पुलिस द्वारा गोली चलाने, जातीय या धार्मिक हिंसा की कोई घटना नहीं हुई।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News