देशी व्यंजन चुनें, शावरमा खाने से बचें: तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री

punjabkesari.in Tuesday, May 10, 2022 - 03:00 PM (IST)

चेन्नई, नौ मई (भाषा) तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री एम. सुब्रमण्यम ने लोगों से ‘शावरमा’ खाने से बचने और इसके बजाय देशी व्यंजन को चुनने की अपील की है।

कुछ लोगों द्वारा शावरमा खाने के बाद प्रतिकूल प्रतिक्रिया दिये जाने की खबरों के बीच मंत्री ने यह अपील की है।

शावरमा बेचने वाले भोजनालयों में राज्यभर में निरीक्षण चल रहा है ताकि यह पता लगाया जा सके कि मांस को ‘फ्रीजिंग’ शर्तों के अनुसार ठीक से भंडारित किया गया है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह खराब न हो और लोगों को गुणवत्तापूर्ण भोजन मिले।

सुब्रमण्यम ने संवाददाताओं से कहा कि अब तक पूरे तमिलनाडु में एक हजार से अधिक दुकानों का निरीक्षण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जिन दुकानों में इस तरह के खाद्य पदार्थों का भंडारण करने और बेचने की बुनियादी सुविधाएं नहीं हैं, उन्हें बंद करने का आदेश दिया गया है।

उन्होंने कहा कि इस संबंध में भोजनालयों को एक परामर्श जारी किया गया है और जहां जरूरी हुआ वहां जुर्माना भी लगाया गया है।

गौरतलब है कि केरल के कासरगोड जिले के एक स्थानीय भोजनालय में शावरमा खाने के बाद भोजन की विषाक्तता से 16 वर्षीय लड़की की मौत हो गई। तमिलनाडु के तंजावुर में एक पशु चिकित्सा कॉलेज के तीन छात्रों को एक स्थानीय रेस्तरां में शावरमा खाने के बाद उल्टी हुई और वे बेहोश हो गए। तीनों छात्रों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सुब्रमण्यम ने पत्रकारों से कहा, ‘‘हम लोगों से अपील करते हैं। हमारे लिए बहुत सारे देशी भोजन के विकल्प उपलब्ध हैं। ऐसे विकल्पों में से चुनने के बजाय, लोगों को विदेशी खाद्य पदार्थों जैसे शावरमा या इसी तरह के किसी अन्य नए विदेशी भोजन को चुनकर अपना स्वास्थ्य खराब नहीं करना चाहिए।’’
शावरमा, दुनिया के कई हिस्सों में एक लोकप्रिय ‘स्ट्रीट फूड’ है। माना जाता है कि लगभग एक सदी पहले तुर्की में इसकी शुरुआत हुई थी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News