जुबैर की शिकायत करने वाले ट्विटर अकांउट को डिलीट किया गया : पुलिस सूत्र

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 10:43 PM (IST)

नयी दिल्ली, 29 जून (भाषा) अज्ञात ट्विटर हैंडल जिससे की गई शिकायत की वजह से ‘अल्ट न्यूज’ के सह संस्थापक मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी हुई, अब माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर मौजूद नहीं हैं।
दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने बताया कि जिस ट्विटर हैंडल से जुबैर के ट्वीट की शिकायत की गई थी, उसे डिलीट कर दिया गया है।

सूत्र ने बताया, ‘‘हम उस ट्विटर अकाउंट उपयोगकर्ता की पहचान और उस तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं ताकि उसके द्वारा अकाउंट को डिलीट करने के कारणों को जान सकें। हालांकि, हमें अंदेशा है कि वह व्यक्ति यह मामला चर्चा में आने के बाद डर गया होगा।’’
उन्होंने बताया कि उक्त ट्विटर हैंडल के कई अनुसरणकर्ता थे जिसने जुबैर द्वारा हिंदू देवता के खिलाफ किए गए 2018 ट्वीट की शिकायत की थी और यह शिकायत किए हुए 1200 दिनों से अधिक हो चुके हैं।
प्राथमिकी के मुताबिक ‘‘हनुमान भक्त @बालाजीकीजय नाम के ट्विटर हैंडल से मोहम्मद जुबैर@जू बीयर नाम से किए गए ट्वीट को साझा किया , जिसमें जुबैर ने ट्वीट किया था, ‘‘2014 से पहले हनीमून होटल और 2014 के बाद हनुमान होटल। इसके साथ ही एक तस्वीर साझा की थी जिसपर साइनबोर्ड पर होटल का नाम ‘‘हनीमून होटल’’से बदलकर ‘‘हनुमान होटल’’किया गया दिखाया गया था।
प्राथमिकी के अनुसार @बालाजीकीजय ने ट्वीट किया, ‘हमारे भगवान हनुमान जी को हनीमून से जोड़ा जा रहा है जो प्रत्यक्ष रूप से हिंदुओं का अपमान है क्योंकि वह (भगवान हनुमान) ब्रह्मचारी हैं। कृपया इस व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई करें।’’
गौरतलब है कि मंगलवार को दिल्ली की अदालत ने जुबैर को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की मियाद चार और दिनों के लिए बढ़ा दी।
तथ्य जांच की वेबसाइट के सह संस्थापक जुबैर को दिल्ली पुलिस ने सोमवार को वर्ष 2018 में किए गए ट्वीट के जरिये धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

दिल्ली पुलिस के उपायुक्त (खुफिया और रणनीतिक अभियान) के.पी.एस.मल्होत्रा ने बताया कि जुबैर के खिलाफ 20 जून को भारतीय दंड संहिता की धारा-153ए और 295ए के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News