बीते वित्त वर्ष में समुद्री उत्पादों का निर्यात 30.26 प्रतिशत बढ़ा

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 07:22 PM (IST)

नयी दिल्ली, 29 जून (भाषा) देश से समुद्री उत्पादों का निर्यात वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 30.26 प्रतिशत बढ़कर 7.76 अरब डॉलर पर पहुंच गया।
वाणिज्य मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान में कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान भारत ने 13,69,264 टन समुद्री खाद्य उत्पादों का निर्यात किया जिसका रुपये में मूल्य 57,586.48 करोड़ रुपये रहा। वित्त वर्ष 2020-21 में यह निर्यात 5.96 अरब डॉलर का था।

मंत्रालय ने कहा, "बीते वित्त वर्ष के दौरान समुद्री उत्पादों के निर्यात में रुपये के संदर्भ में 31.71 प्रतिशत, डॉलर में 30.26 प्रतिशत और मात्रा के संदर्भ में 19.12 प्रतिशत की वृद्धि हुई।"
समुद्री उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एमपीईडीए) के चेयरमैन के एन राघवन ने कहा कि भारत पिछले वित्त वर्ष में 7.76 अरब डॉलर का "सर्वकालिक उच्च" निर्यात करने में सफल रहा।
समुद्री उत्पादों में फ्रोजन झींगा मात्रा और मूल्य के मामले में सबसे अहम रहा। पिछले वित्त वर्ष में इसका निर्यात 5.82 अरब डॉलर रहा था। डॉलर की कुल कमाई में इस खंड की हिस्सेदारी 75.11 फीसदी है।

फ्रोजन झींगा का सबसे बड़ा बाजार अमेरिका है। इसके बाद चीन, यूरोपीय संघ, दक्षिण-पूर्व एशिया, जापान और पश्चिम एशिया का स्थान आता है।
बयान के मुताबिक, "अमेरिका 3.37 अरब डॉलर के आयात के साथ मूल्य एवं मात्रा के मामले में भारतीय समुद्री भोजन का प्रमुख आयातक बना रहा। अमेरिका डॉलर मूल्य के संदर्भ में 37.56 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए जिम्मेदार है।"
वहीं चीन 1.17 अरब डॉलर मूल्य के 2,66,989 टन आयात के साथ मात्रा के मामले में भारत के दूसरे बड़े समुद्री खाद्य निर्यात गंतव्य के रूप में उभरा है।




यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News