अदालत ने मूसेवाला हत्याकांड में गिरफ्तार दो निशानेबाजों समेत तीन को पुलिस हिरासत में भेजा

punjabkesari.in Monday, Jun 20, 2022 - 06:53 PM (IST)

नयी दिल्ली, 20 जून (भाषा) दिल्ली की एक अदालत ने लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या से जुड़े मामले में गिरफ्तार दो निशानेबाजों समेत तीन लोगों को पूछताछ के वास्ते दो हफ्ते के लिए सोमवार को पुलिस हिरासत में भेज दिया।
अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय खनगवाल ने हरियाणा के सोनीपत के प्रियव्रत (26), झज्जर जिले के कशिश (24) और पंजाब के बठिंडा के केशव कुमार (29) को 14 दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया। इससे पहले दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने अदालत से कहा था कि बड़ी साजिश का पता लगाने के लिए उनसे पूछताछ की जरूरत है।
पुलिस ने अदालत से कहा कि प्रियव्रत ने निशानेबाजों की टीम की अगुवाई की और वह घटना के समय कनाडा स्थित गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के सीधे संपर्क में था। पुलिस के अनुसार, वह मुख्य निशानेबाज था और उसी ने हत्या को अंजाम दिया।

जांच एजेंसी के मुताबिक, बराड़ ने लोकप्रिय गायक मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। पुलिस का कहना है कि घटना से पहले एक पेट्रोल पंप के सीसीटीवी फुटेज में प्रियव्रत को देखा जा सकता है, वह पहले भी दो हत्याओं में शामिल था और उसे 2015 में सोनीपत में उनमें से एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के अनुसार प्रियव्रत 2021 में हत्या के एक अन्य मामले में भी वांछित था।
पुलिस के मुताबिक, कशिश निशानेबाजों में से एक था और उसे भी सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है। पुलिस का कहना है कि वह हरियाणा के झज्जर में 2021 में हत्या के एक मामले में वांछित था।
पुलिस के अनुसार, कुमार ने गोलीबारी के बाद निशानेबाजों को अल्टो गाड़ी में बिठाया था, वह घटना के दिन निशानेबाजों के साथ मानसा तक गया था। पुलिस ने बताया कि कुमार 2020 में बठिंडा में हत्या के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था और संदेह है कि पंजाब में जबरन वसूली के एक अन्य मामले में वह शामिल था।
पुलिस के अनुसार, इन सभी के पास से हथियार एवं भारी मात्रा में गोला -बारूद भी बरामद किये गये।
सिद्धू मूसेवाला का वास्तविक नाम शुभदीप सिंह सिद्धू था। उनकी पंजाब के मानसा में 29 मई को अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News