मुरुगन ने वैश्विक फिल्म निर्माताओं को भारत की तकनीकी ताकत से अवगत कराया

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 07:17 PM (IST)

नयी दिल्ली, 22 मई (भाषा) केंद्रीय मंत्री एल.मुरुगन ने रविवार को कहा कि भारत में कृत्रिम बुद्धिमता सहित ध्वनि-दृश्य क्षेत्र में प्रतिभा का सबसे बड़ा भंडार है। उन्होंने साथ ही वैश्विक फिल्म निर्माताओं से अपील की कि वे देश के आकर्षक फिल्म बाजार का लाभ उठाएं।
फ्रांस के कान में चल रहे फिल्म महोत्सव से इतर कारोबारी कार्यक्रम ‘कान नेक्स्ट’ में बोलते हुए मुरुगन ने जोर दिया कि भारत कहानीकारों का महान देश है जहां पर तकनीकी और सॉफ्टवेयर प्रतिभा का सबसे बड़ा भंडार है, जो फिल्म निर्माण में अहम है।

उन्होंने कहा, ‘‘ ध्वनि-दृश्य वह क्षेत्र है जहां पर तकनीक कला के साथ मिलती है।’’ मुरुगन ने खुशी जताई कि पांच भारतीय स्टार्टअप अपनी विशेषज्ञता डबिंग, होंठों से मेल करने वाले संवाद और गेमिंग के लिए स्वचालित समाधान दे रही हैं।
मुरुगन ने कहा कि भारत में हर साल विभिन्न भाषाओं में 2000 से अधिक फिल्में बनती हैं। भारत दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म निर्माता है और उसकी 1.30 अरब की आबादी दुनिया के सबसे आकर्षक फिल्मों बाजारों में से एक की पेशकश करती है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News