रेलवे ''''स्वदेशी'''' हाइपरलूप प्रणाली के विकास के लिए आईआईटी मद्रास के साथ सहयोग करेगा

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 09:06 PM (IST)

नयी दिल्ली, 19 मई (भाषा) रेल मंत्रालय ''स्वदेशी'' हाइपरलूप प्रणाली के विकास के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के साथ सहयोग करेगा और प्रमुख संस्थान में हाइपरलूप प्रौद्योगिकी के वास्ते उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने में भी मदद करेगा।
वर्ष 2017 में तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने हाइपरलूप प्रौद्योगिकी में अपनी रुचि व्यक्त करते हुए कहा था कि भारत इस परियोजना के लिए उत्सुक है और तब से मंत्रालय तथा अमेरिका-आधारित हाइपरलूप वन के बीच प्रस्तावित परियोजना पर कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन परिणाम कुछ खास नहीं निकला।

हाइपरलूप एक ऐसी प्रौद्योगिकी है जिसमें कम दबाव वाली ट्यूब में चुंबकीय उत्तोलन का उपयोग किया जाता है। इसकी मदद से लोगों और माल को हवाई जहाज जैसी गति से लाया-ले जाया जा सकता है।

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि कम ऊर्जा की आवश्यकता और भारत को कार्बन तटस्थ बनाने में यह तकनीक जो महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है, उससे हाइपरलूप परिवहन माध्यम भारतीय रेलवे के लिए काफी आकर्षक हो जाता है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News