ओमीक्रोन मामलों का उपचार केवल निर्धारित कोविड अस्पतालों में ही होना चाहिए: केंद्र ने राज्यों से कहा

punjabkesari.in Thursday, Dec 09, 2021 - 09:50 AM (IST)

नयी दिल्ली, आठ दिसंबर (भाषा) देश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के मामले सामने आने के चलते बढ़ी चिंता के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर बुधवार को कहा कि वायरस के इस नए स्वरूप के मरीजों का उपचार केवल निर्धारित कोविड अस्पतालों के पृथक-वास वार्ड में ही करना होगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने पत्र में कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इन अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मी वायरस से बचाव के पर्याप्त उपाय अपनाएं ताकि मरीज से अन्य लोगों में संक्रमण फैलने का खतरा नहीं रहे।

भूषण ने राज्यों को यह भी सुनिश्चित करने का सुझाव दिया कि संक्रमित पाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों और उनके करीबी संपर्क वाले लोगों के नमूने जीनोम अनुक्रमण के वास्ते प्रयोगशालाओं में भेजे जाएं और समय-समय पर इनकी समीक्षा की जाए। साथ ही कहा कि वायरस की रोकथाम के मद्देनजर मरीज के संपर्क में आए सभी लोगों का पता लगाने और उनके नमूनों की जांच करने को लेकर गंभीरता से कदम उठाए जाएं।

सचिव ने सामुदायिक स्तर पर भी निगरानी पर जोर दिया। उन्होंने पत्र में कहा, '''' जिला निगरानी दल द्वारा क्षेत्र में पहुंचे अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी सुनिश्चित की जाए और, अगर वे जोखिम वाले देशों से पहुंचे हैं तो आठवें दिन उनका कोविड परीक्षण कराए जाने की आवश्यकता है।''''


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News