इरेडा ने नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं में मदद को बीवीएफसीएल के साथ समझौता किया

punjabkesari.in Tuesday, Nov 30, 2021 - 05:10 PM (IST)

नयी दिल्ली, 30 नवंबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी (इरेडा) ने नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के विकास में तकनीकी और वित्तीय विशेषज्ञता उपलब्ध कराने और कोष जुटाने में सहायता के लिए मंगलवार को ब्रह्मपुत्र वैली फर्टिलाइजर कॉरपोरेशन लि. (बीवीएफसीएल) के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये।

समझौता ज्ञापन (एमओयू) के तहत बीवीएफसीएल के लिये इरेडा नवीकरणीय ऊर्जा, हरित हाइड्रोजन, हरित अमोनिया, ऊर्जा दक्षता और संरक्षण परियोजनाओं को लेकर तकनीकी-वित्तीय जांच-परख का काम करेगी।

इरेडा ने एक बयान में कहा, ‘‘कंपनी ने नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के विकास में तकनीकी और वित्तीय विशेषज्ञता उपलब्ध कराने और कोष जुटाने में सहायता उपलब्ध को लेकर मंगलवार को ब्रह्मपुत्र वैली फर्टिलाइजर कॉरपोरेशन लि. (बीवीएफसीएल) के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये।’’
इरेडा और बीवीएफसीएल दोनों सार्वजनिक उपक्रम हैं। इरेडा जहां नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के अंतर्गत है, वहीं बीवीएफसीएल रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के अधीन है।

समझौते पर इरेडा चेयरमैन और प्रबंध निदेशक प्रदीप कुमार दास और बीवीएफसीएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक एस प्रसाद मोहंती ने दस्तखत किये।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News