कोविड-19 रोधी टीकों की बूस्टर खुराक के बारे में विशेषज्ञ समूहों में जारी है विमर्श: सरकार

punjabkesari.in Tuesday, Nov 30, 2021 - 03:06 PM (IST)

नयी दिल्ली, 30 नवंबर (भाषा) कोविड-19 के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ के मद्देनजर देश में कोविड रोधी टीकों की बूस्टर खुराक लोगों को देने की उठ रही मांगों के बीच केंद्र सरकार ने मंगलवार को संसद को बताया कि इस बारे में विशेषज्ञ समूह विचार-विमर्श कर रहे हैं।

राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने कहा कि कुछ देश कोविड टीके की बूस्टर खुराकें प्रदान कर रहे हैं लेकिन भारत में इसकी आवश्यकता पर अभी विमर्श जारी है।

उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) और राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण विशेषज्ञ समूह (एनईजीवीएसी) बूस्टर खुराक की आवश्यकता व औचित्य के साथ- साथ कोविड-19 टीकों की खुराक अनुसूची से संबंधित वैज्ञानिक प्रमाणों पर विचार- विमर्श और सलाह कर रहे हैं।

गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ की पहचान की गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे बेहद संक्रामक बताया है। इसके मद्देनजर कई देशों ने अफ्रीकी देशों से आवाजाही पर प्रतिबंध लगाए हैं और बचाव के तहत अन्य कदम उठाए हैं।

इसके फैलने को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ एक समीक्षा बैठक की और उन्हें मामलों की शीघ्र पहचान और प्रबंधन के लिए जांच बढ़ाने की सलाह दी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News