कोविड के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से आने वाली उड़ानों को रोका जाए: केजरीवाल

punjabkesari.in Saturday, Nov 27, 2021 - 12:17 PM (IST)

नयी दिल्ली, 27 नवंबर (भाषा) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शनिवार को आग्रह किया कि वह कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से भारत आने वाली उड़ानों पर रोक लगाएं।

केजरीवाल ने एक ट्वीट में इस बात पर जोर दिया कि देश ‘‘बड़ी मुश्किल’’ से कोविड-19 वैश्विक महामारी से ‘‘उबर पाया’’ है।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैं माननीय प्रधानमंत्री से आग्रह करता हूं कि वह नए स्वरूप से प्रभावित देशों से आने वाली उड़ानों पर रोक लगाएं। हमारा देश बड़ी मुश्किल से कोरोना वायरस से उबरा है। हमें इस नए स्वरूप को भारत में आने से रोकने के लिए हर संभव कदम उठाना चाहिए।’’
इससे पहले, आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में कोविड-19 की ताजा स्थिति और जारी टीकाकरण अभियान की समीक्षा के लिए शनिवार को एक अहम बैठक करेंगे।

देश में शनिवार को एक दिन में कोविड-19 के 8,318 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,45,63,749 हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कोविड-19 टीके की 120.96 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।


विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस के इस नये स्वरूप को ‘ओमीक्रॉन’ नाम दिया है और इसे ‘बेहद संक्रामक चिंताजनक स्वरूप’ करार दिया है। कोरोना वायरस के इस नये स्वरूप के सामने आने के बाद अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, रूस और कई अन्य देशों के साथ यूरोपीय संघ ने अफ्रीकी देशों से लोगों के आवागमन पर रोक लगा दी है।
केंद्र ने बृहस्पतिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा था कि दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना से आने वाले या इन देशों के रास्ते आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कड़ी जांच की जाए। इन देशों में कोविड​​​​-19 के नए स्वरूप के सामने आने की सूचना है जिसके जनस्वास्थ्य पर गंभीर असर पड़ सकते हैं।

इस बीच, दिल्ली सरकार ने अफ्रीकी देशों से कोविड-19 के नए स्वरूप के खतरे के मद्देनजर उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा के लिए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की सोमवार को एक बैठक बुलायी है।


केजरीवाल ने ट्वीट किया था, ‘‘अफ्रीकी देशों से कोविड-19 के नए स्वरूप के खतरे के मद्देनजर, हमने विशेषज्ञों से सोमवार को डीडीएमए से चर्चा करने और यह सुझाव देने को कहा है कि हमें कौन से कदम उठाने चाहिए। हम आपकी और आपके परिवार की रक्षा के लिए आवश्यक सभी कदम उठाएंगे।’’
ऐसी आशंका है कि कोविड-19 के नए स्वरूप से बड़ी संख्या में उत्परिवर्तन हो सकता है जो पहले कभी नहीं देखा गया। दक्षिण अफ्रीका में प्राधिकारियों ने बृहस्पतिवार को इससे जुड़े 22 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News