दिल्ली में बारिश के कारण भारी जलजमाव, यातायात जाम

2021-08-01T17:06:41.827

नयी दिल्ली, एक अगस्त (भाषा) दिल्ली में बारिश जारी रहने के बीच कई स्थानों पर रविवार को भारी जलजमाव हो गया और यातायात जाम लग गया।

अधिकारियों ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला ने शनिवार को सुबह साढ़े आठ बजे से रविवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक 28.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की जबकि रिज स्टेशन ने 126.8 मिमी बारिश दर्ज की।
लोक निर्माण विभाग के अनुसार, यमुना बाजार, खानपुर, रोहतक रोड, लोधी रोड, आजादपुर अंडरपास, जखीरा अंडरपास, शक्ति नगर अंडरपास, किराड़ी, सागरपुर में भारी जलजमाव हो गया।

पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने कहा कि सुबह जलजमाव की करीब 20-30 शिकायतें मिलीं। अधिकारियों ने बताया कि कर्मचारी काम में लगे हुए हैं और जलजमाव संबंधी शिकायतों से प्राथमिकता के आधार पर निपटा जा रहा है।

पुलिस ने बताया कि उन्हें पटपड़गंज रोड के अंडरपास, यमुना विहार, तीस हजारी के पास स्थित मलकागंज और कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशनों, चौधरी फतेह सिंह मार्ग, मुनीरका तथा नांगलोई से सुबह आठ बजे के बाद जलजमाव संबंधी शिकायतें मिलीं।

मंगोलपुरी में बारिश के बाद सड़क का एक हिस्सा धंस गया, जिससे इलाके में यातायात बाधित हो गया। दिल्ली यातायात पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘मंगोलपुरी में वाई ब्लॉक के पास एक सड़क धंस गयी है।’’
एक अन्य ट्वीट में पुलिस ने कहा कि जखीरा अंडरपास, आजादपुर अंडरपास और शक्ति नगर अंडरपास में भी जलजमाव के कारण यातायात प्रभावित हुआ है।

इस बीच, यमुना में जल स्तर फिर से बढ़ गया है और रविवार सुबह यह 205.30 मीटर दर्ज किया गया, जो खतरे के निशान 205.33 मीटर से थोड़ा ही कम है।

अधिकारियों ने बताया कि यमुना के डूब वाले क्षेत्रों से पिछले कुछ दिनों में 100 से अधिक परिवारों को ऊंचाई वाले इलाकों में पहुंचाया गया है। नदी के तटीय इलाकों में भारी बारिश के कारण जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर को पार कर जाने के बाद शुक्रवार को दिल्ली प्रशासन ने बाढ़ की चेतावनी जारी की थी और संवेदनशील जगहों से लोगों को निकालने का काम शुरू किया था।

सुबह नौ बजे पुराना रेलवे पुल पर जलस्तर 205.30 मीटर दर्ज किया गया। शुक्रवार को यमुना में जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर चला गया था और रात नौ बजे तक यह 205.59 मीटर के स्तर तक पहुंच गया था। शनिवार शाम को जलस्तर 204.89 मीटर दर्ज किया गया था।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News