बंधन बैंक का लाभ पहली तिमाही में 32 प्रतिशत घटकर 373 करोड़ रुपये रहा

2021-07-30T18:58:36.973

नयी दिल्ली, 30 जुलाई (भाषा) बंधन बैंक का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष 2021-22 की अप्रैल-जून तिमाही में 32 प्रतिशत घटकर 373.10 करोड़ रुपये रहा। मुख्य रूप से फंसे कर्ज के बदले प्रावधान बढ़ने से बैंक का लाभ कमा है।

इससे पूर्व वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में बैंक का शुद्ध लाभ 549.80 करोड़ रुपये था।

बंधन बैंक ने शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा कि जून 2021 को समाप्त तिमाही में उसकी आय हालांकि 20.4 प्रतिशत बढ़कर 2,647.50 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 2,198.30 करोड़ रुपये थी।

बैंक की सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) यानी फंसा कर्ज कुल ऋण के प्रतिशत के रूप में 30 जून, 2021 को बढ़कर 8.2 प्रतिशत पहुंच गया। एक साल पहले इसी तिमाही में यह 1.4 प्रतिशत था।

शुद्ध एनपीए भी उछलकर आलोच्य तिमाही में 3.3 प्रतिशत पहुंच गया जो एक साल पहले जून 2020 में 0.5 प्रतिशत था।

फंसे कर्ज के एवज में प्रावधान आलोच्य तिमाही में बढ़कर 1,374.87 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले 2020-21 की पहली तिमाही में 849.06 करोड़ रुपये था।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News