स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर मिश्रित परियोजनाओं, भंडारण और अपशिष्ट ऊर्जा क्षेत्र में प्रवेश करेगी

2021-07-30T12:43:31.92

नयी दिल्ली, 30 जुलाई (भाषा) स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर लिमिटेड ने शुक्रवार को कहा कि वह मिश्रित ऊर्जा बिजली संयंत्रों, ऊर्जा भंडारण समाधान और अपशिष्ट से ऊर्जा परियोजनाओं के लिए ईपीसी समाधान को शामिल करके अपने कारोबार का विस्तार करेगी।

भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर लिमिटेड (एसडब्ल्यूएसएल) ने कहा कि मिश्रित ऊर्जा परियोजनाओं के तहत भंडारण के साथ या उसके बिना, दो या अधिक ऊर्जा स्रोतों को शामिल करने वाले समाधान होंगे।

वैश्विक बाजार का एक बड़ा हिस्सा माइक्रोग्रिड की ओर बढ़ रहा है, जो 100 प्रतिशत नवीकरणीय ऊर्जा पर आधारित हैं।

एसडब्ल्यूएसएल के वैश्विक सीईओ अमित जैन ने कहा कि कंपनी का लक्ष्य भविष्य के ऊर्जा बाजार में वैश्विक नेता बनने के लिए अपने परियोजना प्रबंधन कौशल और मजबूत हितधारक संबंधों का उपयोग करना है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News