राजनाथ ने ताजिकिस्तान में बीआरओ सड़क परियोजना की प्रगति का जायजा लिया

2021-07-29T23:58:43.287

नयी दिल्ली, 29 जुलाई (भाषा) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को ताजिकिस्तान में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा बनायी जा रही एक प्रमुख सड़क के निर्माण का जायजा लिया। ताजिकिस्तान मध्य एशिया में भारत के लिए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण देश है।

सिंह ने ताजिकिस्तान की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के अंतिम दिन परियोजना स्थल का दौरा किया।

सिंह के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने ताजिकिस्तान में एक बीआरओ परियोजना स्थल का दौरा किया। बीआरओ अयनी चौराहे से चोरटुट तक एक सड़क का निर्माण कर रहा है। यह ताजिकिस्तान सरकार को भारत सरकार की अनुदान सहायता परियोजना है।’’
भारत और ताजिकिस्तान के बीच रक्षा और सुरक्षा संबंध पिछले कई वर्षों में मजबूत हुए हैं। भारत ने राजधानी दुशांबे के पास अयनी एयरबेस भी विकसित किया है।

रक्षा मंत्री ने ताजिकिस्तान में पढ़ रहे भारतीय छात्रों से भी बातचीत की।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘तजाकिस्तान में पढ़ रहे भारतीय छात्रों के साथ अच्छी बातचीत हुई। हमने अपने देश में असीमित क्षमता और भारत में ''आत्मनिर्भरता'' की दिशा में चल रहे प्रयासों के बारे में बात की। हमने स्वास्थ्य और शिक्षा में उभरते रुख पर भी चर्चा की।’’
सिंह आठ देशों के प्रभावशाली समूह एससीओ के सदस्य देशों के रक्षा मंत्रियों के एक सम्मेलन में भाग लेने के लिए तीन दिवसीय यात्रा पर मंगलवार को दुशांबे पहुंचे थे।

उन्होंने बुधवार को सम्मेलन में अपने संबोधन में कहा कि आतंकवाद अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए सबसे गंभीर खतरा है और आतंकवाद के किसी भी कृत्य को समर्थन मानवता के खिलाफ अपराध है।

उन्होंने एससीओ सम्मेलन के इतर ताजिकिस्तानी रक्षा मंत्री कर्नल जनरल शेराली मिर्जो के साथ भी बातचीत की।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News