राज्यसभा में मास्क लगाये बिना हंगामा कर रहे विपक्षी सदस्यों को आसन ने किया आगाह

2021-07-27T13:16:57.567

नयी दिल्ली, 27 जुलाई (भाषा) राज्यसभा में मंगलवार को विभिन्न मुद्दों पर आसन के समक्ष आकर हंगामा कर रहे विपक्षी सदस्यों को पहले सभापति एम वेंकैया नायडू ने और बाद में उप सभापति हरिवंश ने मास्क नहीं लगाने को लेकर कड़े शब्दों में आगाह किया।
सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। उसी दौरान विभिन्न मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ नारे लगाते हुए विपक्षी दलों के कुछ सदस्य आसन के समक्ष आ गए। सभापति नायडू ने अप्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा ‘‘मास्क.... आपके मास्क कहां हैं ? आप खुद को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं और दूसरों को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं।’’
बहरहाल, हंगामे के कारण सभापति ने बैठक दोपहर बारह बजे तक स्थगित कर दी। एक बार के स्थगन के बाद जब बैठक पुन: शुरू हुई तब मास्क लगाए बिना आसन के समक्ष आ कर हंगामा कर रहे विपक्षी सदस्यों को उपसभापति हरिवंश ने आगाह किया। उन्होंने विपक्षी सदस्यों से सवाल किया कि वे कोविड-19 अनुशासन का पालन नहीं करके देश को क्या संदेश देना चाहते हैं?
हरिवंश ने हंगामा कर रहे विपक्षी सदस्यों से कहा, ‘‘कृपया कोविड के अनुशासन का पालन करिए। आप यहां मास्क खोलकर शोर कर करे हैं? आप कोविड अनुशासन का पालन नहीं कर रहे हैं। आप देश को कैसा संदेश देना चाहते हैं? आप कम से कम राज्यसभा के अनुशासन का तो पालन करिए। प्रश्नकाल चलने दीजिए।’’
उपसभापति की इस बात का हंगामा और नारेबाजी कर रहे सदस्यों पर कोई प्रभाव नहीं हुआ। सदन में व्यवस्था बनते न देख हरिवंश ने बैठक को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।
उल्लेखनीय है कि उच्च सदन में मानसून सत्र के शुरू से ही पेगासस जासूसी सहित विभिन्न मुद्दों पर विपक्ष के विरोध के चलते गतिरोध बना हुआ है। उच्च सदन में पिछला मंगलवार अपवाद स्वरूप रहा जब सभी दलों के नेताओं की सहमति से कोविड की स्थिति को लेकर चार घंटे तक चर्चा चली।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News