विक्रम सोलर का तमिलनाडु में 1,300 मेगावाट क्षमता का मोड्यूल विनिर्माण संयंत्र चालू

2021-07-20T17:39:11.393

नयी दिल्ली, 20 जुलाई (भाषा) सौर ऊर्जा क्षेत्र से जुड़ी निजी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी विक्रम सोलर ने मंगलवार को तमिलनाडु के ऑर्गाडैम स्थित इंडोस्पेस इंस्ट्रियल पार्क में 1,300 मेगावाट क्षमता की नई सौर फोटोवोल्टिक मॉड्यूल विनिर्माण इकाई चालू होने की घोषणा की।

कंपनी ने कहा कि इस कारखाने की वार्षिक विनिर्माण क्षमता 1,300 मेगावाट है और इसका उद्धाटन तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने किया।
विक्रम सोलर के अनुसार इस इकाई के चालू होने के साथ ही कंपनी की फोटोवोल्टिक मॉड्यूल विनिर्माण की कुल क्षमता 2,500 मेगावाट पहुंच गई है। कंपनी का दावा है कि फोटोवोल्टिक मॉड्यूल विनिर्माण की यह क्षमता देश में सबसे बड़ी है।

विक्रम सोलर के प्रबंध निदेशक ज्ञानेश चौधरी ने ‘ऑनलाइन’ संवाददाता सम्मेलन में कहा, “कंपनी भारत के आत्मानिर्भर भारत दृष्टिकोण को हकीकत रूप देने और स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में तेजी लाने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा नया संयंत्र न सिर्फ विक्रम सोलर बल्कि पूरे देश के सौर विनिर्माण प्रक्रिया और परिवेश को मजबूत बनाएगा।’’
उन्होंने कहा, ‘‘ हमारा नया कारखाना न सिर्फ मॉड्यूल की मांग और आपूर्ति के अंतर को पूरा करेगा बल्कि तकनीकी नवोन्मेष और रोजगार सृजन को बढ़ावा देगा। साथ ही यह भारत के नवीकरणीय ऊर्जा लक्ष्यों को हासिल करने में सहायक सिद्ध होगा।”
चौधरी ने राज्य के भीतर कारोबारी सुगमता सुनिश्चित करने के लिए अनुकूल माहौल तैयार करने और निरंतर मदद के लिए तमिलनाडु सरकार का आभार भी जताया।

कंपनी के अनुसार इस संयंत्र के चालू होने से पहले चरण में 1,000 रोजगार सृजित होने का अनुमान है।

विक्रम सोलर का पश्चिम बंगाल के फाल्टा में 1,200 मेगावाट क्षमता का सौर मोड्यूल विनिर्माण संयंत्र है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News