कोटकपुरा गोलीबारी: विशेष जांच दल के समक्ष मंगलवार को पेश होंगे पूर्व मुख्यमंत्री बादल

2021-06-20T19:01:35.267

चंडीगढ़, 20 जून (भाषा) कोटकपुरा में 2015 में पुलिस गोलीबारी की घटना की जांच के लिये गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) के समक्ष पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल मंगलवार को पेश होंगे।

इससे पहले पंजाब पुलिस एसआईटी ने 16 जून को मोहाली में अकाली दल के नेता को पूछताछ के लिये तलब किया था। बादल ने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए तब पेशी की तारीख बदलने का अनुरोध किया था। बाद में एसआईटी ने पेशी के लिये तारीख में बदलाव कर दिया था।

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल के प्रधान सलाहकार हरचरण बैंस ने ट्वीट किया, “पांच बार पंजाब के मुख्यमंत्री रहे सरदार प्रकाशसिंह बादल 22 जून को चंडीगढ़ के सेक्टर चार स्थित अपने आधिकारिक विधायक निवास पर सुबह साढ़े 10 बजे एसआईटी के समक्ष पेश होंगे। सेहत अच्छी नहीं होने के बावजूद, बादल कानून का सम्मान करने वाले देश के एक नागरिक के तौर पर अपने कानूनी व संवैधानिक दायित्वों के निर्वहन के इच्छुक हैं।”

जिस वक्त धार्मिक ग्रंथ से बेअदबी और उसके खिलाफ फरीदकोट में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर 2015 में पुलिस गोलीबारी की घटना हुई थी, तब बादल मुख्यमंत्री थे।

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देश पर पंजाब सरकार ने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एल के यादव के नेतृत्व में कोटकपुरा पुलिस गोलीबारी की घटना की जांच के लिये एक नई एसआईटी का गठन किया था।

नई एसआईटी कोटकपुरा घटना के संबंध में 14 अक्टूबर 2015 और सात अगस्त 2018 को दर्ज दो प्राथमिकियों की जांच कर रही है।

उच्च न्यायालय ने इससे पहले नौ अप्रैल को पंजाब पुलिस की एक पूर्व एसआईटी द्वारा दी गई रिपोर्ट को रद्द कर दिया था।


अदालत ने तब राज्य सरकार को निर्देश दिया था कि वह भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी कुंवर विजय प्रताप सिंह को शामिल किये बिना एक नई एसआईटी का गठन करे। सिंह पहले गठित एसआईटी का हिस्सा थे। अदालत के आदेश के बाद सिंह ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली थी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News