राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत अन्य गणमान्य लोगों ने डीपीआईआईटी के सचिव महापात्र के निधन पर शोक जताया

2021-06-20T00:16:13.7

नयी दिल्ली, 19 जून (भाषा) राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह समेत कई अन्य गणमान्य लोगों ने उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) के सचिव गुरुप्रसाद महापात्र के निधन पर शनिवार को शोक प्रकट किया।
59 साल के महापात्र का निधन कोविड-19 संबंधी जटिलताओं के कारण हुआ। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उन्हें अप्रैल में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था। वर्ष 2019 के अगस्त में डीपीआईआईटी के सचिव का कार्यभार संभालने से पहले गुजरात कैडर के 1986 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रहे महापात्र ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अध्यक्ष के रूप में भी काम किया।
कोविंद ने ‘महापात्र को एक उत्कृष्ट प्रशासनिक अधिकारी करार देते हुए कहा कि उनके काम करने का तरीका तथा लोक सेवा के प्रति उनका समर्पण हमेशा अनुकरणीय रहेगा। राष्ट्रपति भवन ने कोविंद के हवाले से किये एक ट्वीट में कहा, ‘‘उद्योग और आंतरिक व्यापार विभाग के सचिव डॉ. गुरुप्रसाद महापात्र के असामयिक निधन से काफी पीड़ा हुई है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘महापात्र एक उत्कृष्ट प्रशासनिक अधिकारी थे। उनके काम करने का तरीका तथा लोक सेवा के प्रति उनका समर्पण अनुकरणीय था। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार, मित्रों एवं सहयोगियों के साथ हैं।’’ मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में महापात्र के साथ अपने अनुभवों को याद करते हुए कहा कि महापात्र को प्रशासनिक मुद्दों की गहरी समझ थी उन्हें प्रगतिशील प्रयोगों के प्रति जज्बे के लिए जाना जाता था। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘डीपीआईआईटी के सचिव गुरुप्रसाद महापात्र के निधन से दु:खी हूं। मैंने उनके साथ गुजरात और केंद्र में काम किया है।’’
उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें प्रशासनिक मुद्दों की गहरी समझ थी और उन्हें प्रगतिशील प्रयोगों के प्रति जज्बे के लिए जाना जाता था। उनके परिवार के सदस्यों और मित्रों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। ओम शांति।’’ केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महापात्र के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया,‘‘ डीपीआईआईटी के सचिव डॉ गुरुप्रसाद महापात्र एक बेहद योग्य और कड़ी मेहनत करने वाले अधिकारी थे। उनके आकस्मिक निधन से बहुत दुख हुआ है। दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करता हूं। ओम शांति।’’ कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने महापात्र के असामयिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें उनके सक्रिय दृष्टिकोण और सार्वजनिक सेवा के प्रति प्रतिबद्धता के लिए हमेशा याद किया जाएगा। गौबा ने कहा, ‘‘ महापात्र एक प्रिय सहयोगी होने के साथ ही रणनीतिक सोच और नेतृत्व के असाधारण गुणों वाले एक उत्कृष्ट प्रशासनिक अधिकारी भी थे।’’
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि महापात्र के निधन से गहरी पीड़ा हुयी है। रूपाणी ने दिवंगत अधिकारी की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हुए कहा कि ईश्वर उनके परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति प्रदान करे।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News