मेडिकल ऑक्सीजन ट्रक को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए ग्रीन गलियारे का इंतजाम

2021-04-21T17:03:12.663

नयी दिल्ली, 21 अप्रैल (भाषा) दिल्ली पुलिस ने सिंघू बार्डर से ऑक्सीजन कंटेनर वाले एक ट्रक को शीघ्र रोहिणी के एक निजी अस्पताल में पहुंचाने के लिए बुधवार को ग्रीन गलियारे (निर्बाध आवाजाही) की व्यवस्था की। अस्पताल में ऑक्सीजन आपूर्ति घटती जा रही थी।

अधिकारियों ने बताया कि अलीपुर थाने को सुबह करीब 9 बजे सूचना मिली कि हरियाणा से ऑक्सीजन कंटेनर लेकर आ रहा एक ट्रक कुंडली बार्डर पर केएमपी फ्लाईओवर पर फंस गया है।
पुलिस के अनुसार इस वाहन को गंभीर कोविड-19 परिदृश्य के बीच ऑक्सीजन सिलेंडरों की कमी के चलते यथाशीघ्र जयपुर गोल्डन अस्तपाल , रोहिणी पहुंचना था लेकिन वह बार्डर पर फंस जाने के कारण नहीं पहुंच पाया।

एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अलीपुर के थानाप्रभारी, आपात वाहन कर्मी एवं मोटरसाइकिल गश्ती दल हरियाणा में कुंडली बार्डर के केएमपी फ्लाईओवर पहुंचे और उन्होंने ऑक्सीजन कंटेनर से लदे ट्रक को फंसा पाया। तब इस दल ने हरियाणा में कुंडली पुलिस से समन्वय किया और ट्रक को सिंघू बार्डर पर पहुंचवाया।
पुलिस उपायुक्त (बाहरी उत्तरी) राजीव रंजन सिंह ने कहा, ‘‘ ऑक्सीजन टैंकर को शीघ्र पहुंचाने के लिए ग्रीन गलियारे की स्थापना की गयी। अलीपुर थाने द्वारा प्रदत्त पुलिस एस्कॉर्ट में उस टैंकर को जयपुर गोल्डन अस्पताल पहुंचाया गया और यह सुनिश्चित किया गया कि ऑक्सीन ट्रक कम से कम समय में अस्पताल पहुच जाए।’’
इससे पहले भी दिल्ली पुलिस का बाहरी जिला यातायात में फंसे दो ऑक्सीजन टैंकरों को ग्रीन गलियारा प्रदान कर चुका है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static