दुर्घटना मौत दावे के निपटारे के लिए रिश्वत मांगने के मामले में सीबीआई ने दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया

2021-04-20T19:55:32.127

नयी दिल्ली,20 अप्रैल (भाषा) सीबीआई ने एक व्यक्ति के दुर्घटना मृत्यु बीमा के दावे का निपटारा करने के एवज में कथित तौर पर 4.5 लाख रुपए रिश्वत मांगने के मामले में ‘नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड’ के वरिष्ठ मंडलीय प्रबंधक और एक प्रशासनिक अधिकारी को गिरफ्तार किया है।
अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि शिकायत मिलने पर सीबीआई ने जाल बिछाया जहां आरोपी प्रशासनिक अधिकारी नाहिदा को कथित रिश्वत की पहली किस्त के रूप में दो लाख रुपए मिलने थे। यह अधिकारी श्रीनगर कार्यालय में पदस्थ थी।
उन्होंने बताया कि नाहिदा द्वारा कथित रूप से रिश्वत लिये जाते हुये गिरफ्तारी के बाद वरिष्ठ मंडलीय प्रबंधक रविकांत गोयल की भी इसमें कथित संलिप्ता की बात सामने आई और उन्हें भी हिरासत में लिया गया।
सीबीआई प्रवक्ता आरसी जोशी ने कहा, ‘‘ एक महिला के पिता की सड़क दुर्घटना में मौत हो जाने के बाद दुर्घटना दावा का निपटारा करने के लिए नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लीमिटेड के डीलिंग अधिकारी (बाद में जिसकी पहचान प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर हुई है) ने शिकायतकर्ता से 4.5 लाख की रिश्वत मांगी थी। इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।’’
उन्होंने कहा कि आरोप है कि आरोपी अपने वरिष्ठों के साथ रिश्वत का पैसा बांटने वाले थे। दोनों अधिकारियों की गिरफ्तारियों के बाद सीबीआई ने आरोपियों के श्रीनगर और चंडीगढ़ के परिसरों पर छापे मारे। छापे में वरिष्ठ मंडलीय प्रबंधक के परिसर से करीब एक लाख रुपए नकद, करीब 30लाख रुपए बैंक में, बैंक खातों, शेयर और संपत्ति से जुड़े कागजात मिले हैं।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static