एफडीआई निवेश भारत को लेकर हमारी दीर्घकालिक प्रतिबद्धता दर्शाता है : एटीसी

2020-11-25T23:19:53.867

नयी दिल्ली, 25 नवंबर (भाषा) दूरसंचार क्षेत्र की कंपनी एटीसी इंडिया ने बुधवार कहा कि 2,480 करोड़ रुपये का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) भारत को लेकर उसकी दीर्घकालिक प्रतिबद्धता और डिजिटल इंडिया मिशन के लिए भरोसे को दर्शाता है।

उल्लेखनीय है कि सरकार ने बुधवार को एटीसी टेलीकॉम इंफ्रास्ट्रक्चर में 12 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए एटीसी एशिया पैसेफिक लिमिटेड के 2,480 करोड़ रुपये के एफडीआई को मंजूरी प्रदान कर दी।

एटीसी के कार्यकारी उपाध्यक्ष अनिल शर्मा ने एक बयान में कहा कि वर्ष 2007 से अब तक देश में डिजिटल दूरसंचार बुनियादी ढांचे के निर्माण और विकास पर कंपनी 24,000 करोड़ रुपये निवेश कर चुकी है। अब कंपनी के देशभर में करीब 75,000 मोबाइल टावर हैं जो सभी दूरसंचार कंपनियों के लिए सहायक हैं।

एटीसी इंडिया, अमेरिकन टावर की भारतीय अनुषंगी है। अमेरिकन टावर दुनिया की अग्रणी स्वतंत्र मोबाइल टावर परिचालक और कई कंपनियों को किराये पर देने वाले संचार रियल एस्टेट पर मालिकाना हक रखने वाली कंपनी है।

शर्मा ने कहा कि एटीसी इंडिया सरकार द्वारा एफडीआई प्रस्ताव को मंजूरी देने की शुक्रगुजार है। यह निवेश सरकार के डिजिटल इंडिया मिशन और भारत को लेकर उसकी दीर्घकालिक प्रतिबद्धता को दर्शाता है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Recommended News