See More

मारुति, एमजी मोटर की घरेलू बिक्री जुलाई में बढ़ी, हुंदै, अन्य में गिरावट

2020-08-01T19:36:18.193

नयी दिल्ली, एक अगस्त (भाषा) देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की घरेलू यात्री वाहन बिक्री जुलाई में1.3 प्रतिशत बढ़ी है। वहीं ब्रिटिश कार कंपनी एमजी मोटर इंडिया की बिक्री में भी 40 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गयी है। जबकि देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी हुंदै समेत अन्य कार कंपनियों की बिक्री में गिरावट देखी गयी है।

मारुति सुजुकी ने शनिवार को बयान में कहा कि घरेलू बाजार में उसकी बिक्री हालांकि 1.3 प्रतिशत बढ़कर 1,01,307 इकाई पर पहुंच गई। जुलाई, 2019 में यह आंकड़ा 1,00,006 इकाई का रहा था।

जबकि कंपनी की कुल बिक्री जुलाई में 1.1 प्रतिशत घटकर 1,08,064 इकाई रह गई। पिछले साल के समान महीने में कंपनी ने 1,09,264 वाहन बेचे थे।

जुलाई में कंपनी की छोटी कार आल्टो, वैगन-आर की बिक्री 49.1 प्रतिशत बढ़कर 17,258 इकाई, कॉम्पैक्ट कार स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर की बिक्री 10.4 प्रतिशत घटकर 51,529 इकाई और मध्यम आकार की सेडान सियाज की बिक्री घटकर 2,397 इकाई से 1,303 इकाई रही।

जुलाई महीने में कंपनी का निर्यात 27 प्रतिशत घटकर 6,757 इकाई रह गया। एक साल पहले समान महीने में कंपनी ने 9,258 वाहनों का निर्यात किया था।
इसी तरह ब्रिटिश कार कंपनी एमजी मोटर की भारतीय अनुषंगी एमजी मोटर इंडिया की खुदरा बिक्री इस दौरान 40 प्रतिशत बढ़कर 2,105 इकाई पर पहुंच गई। पिछले साल समान महीने में कंपनी ने 1,508 वाहन बेचे थे।

एमजी मोटर इंडिया के निदेशक-बिक्री राकेश सिदाना ने कहा, ‘‘कुल बाजार माहौल विभिन्न चरणों में लॉकडाउन की वजह से अनिश्चित बना हुआ है। विशेषरूप से चेन्नई क्षेत्र से कलपुर्जों की आपूर्ति प्रभावित हुई है।’’
मारुति की प्रतिद्वंदी और देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड की घरेलू बिक्री दो प्रतिशत घटकर 38,200 इकाई रह गई, जो जुलाई, 2019 में 39,010 वाहन रही थी।
जबकि कंपनी की कुल बिक्री जुलाई महीने में 28 प्रतिशत घटकर 41,300 इकाई रह गई। पिछले साल के समान महीने में कंपनी ने 57,310 वाहन बेचे थे।
कंपनी के निदेशक (बिक्री, विपणन एवं सेवा) तरुण गर्ग ने कहा कि कंपनी देश की अर्थव्यवस्था को उबारने में कुछ योगदान देने में सफल रही है। जुलाई में कंपनी की बिक्री में मुख्य रूप से नई क्रेटा एसयूवी, वेन्यू और नई वेरना तथा कॉम्पैक्ट कारों इलिट आई10 तथा नियोस का योगदान रहा।

इसी तरह घरेलू वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा की जुलाई में घरेलू बिक्री 35 प्रतिशत घटकर 24,211 इकाई रह गई, जो जुलाई, 2019 में 37,474 इकाई रही थी। कंपनी की कुल बिक्री जुलाई में 36 प्रतिशत घटकर 25,678 इकाई रह गई। इससे पिछले साल के समान महीने में कंपनी ने 40,142 वाहन बेचे थे।

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) की घरेलू बाजार में बिक्री जुलाई माह में 48.32 प्रतिशत घटकर 5,386 इकाई रह गई। पिछले साल समान महीने में कंपनी ने घरेलू बाजार में 10,423 वाहन बेचे थे।
टीकेएम के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (बिक्री एवं सेवा) नवीन सोनी ने बयान में कहा, ‘‘कई तरह की चुनौतियों के बावजूद जुलाई में कंपनी की खुदरा और थोक बिक्री जून की तुलना में बेहतर रही है।’’
दोपहिया वाहन श्रेणी में देश की सबसे बड़ी दोपहिया कंपनी हीरो मोटोकॉर्प की बिक्री जुलाई में 3.97 प्रतिशत घटकर 5,14,509 इकाई रह गई। जुलाई, 2019 में कंपनी ने 5,35,810 वाहन बेचे थे।
हीरो मोटोकॉर्प ने शनिवार को बयान में कहा कि कोविड-19 महामारी की वजह से आर्थिक सुस्ती के बावजूद कंपनी ने जून की तुलना में बिक्री में 14 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है।

सुजुकी मोटरसाइकिल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की जुलाई में घरेलू बिक्री 31,421 वाहन रही। यह पिछले साल की 62,366 वाहन बिक्री के मुकाबले 50 प्रतिशत कम है।

इस दौरान कंपनी का निर्यात 2,991 वाहन रहा।

कंपनी की कुल बिक्री 50 प्रतिशत गिरकर 34,412 इकाई रही। पिछले साल कंपनी ने जुलाई में 69,236 वाहनों की बिक्री की थी।

कंपनी के प्रबंध निदेशक कोईचिरो हिराओ ने कहा कि अब अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने (अनलॉक) की प्रक्रिया के तहत वाहन उद्योग में विनिर्माण, बिक्री और वितरण सामान्य स्थिति की ओर लौट रहा है। कंपनी अगस्त से कोविड-19 से पूर्व के स्तर को पाने की पूरी कोशिश करेगी।

लक्जरी मोटरसाइकिल बनाने वाली कंपनी रॉयल एनफील्ड की घरेलू बिक्री जुलाई में 23 प्रतिशत घटकर 37,925 वाहन रही। कंपनी पिछले साल जुलाई में 49,182 मोटरसाइकिल की घरेलू बिक्री की थी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News