कृषि मंत्री नाभा ने डी.ए.पी. संकट से निपटने के लिए केंद्रीय मंत्री मांडविया से की मुलाकात

10/19/2021 9:17:21 PM

चंडीगढ़/नई दिल्ली, (रमनजीत): पंजाब में डी.ए.पी. संकट के मद्देनजर राज्य के कृषि, किसान कल्याण और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने मंगलवार को केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया के साथ मुलाकात की। नाभा द्वारा संकट हल करने के लिए दिए गए दखल के बाद केंद्रीय मंत्री ने पंजाब को 3-4 दिन में डी.ए.पी. के 10 रैक, एन.पी.के. के 5 रैक और एस.एस.पी. के 2 रैक सप्लाई करने का भरोसा दिया। पंजाब की मांग को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय मंत्री ने नवम्बर और दिसम्बर में पंजाब को यूरिया की उचित सप्लाई देने का भरोसा भी दिया।

 


नई दिल्ली स्थित केंद्रीय मंत्री के कार्यालय में मुलाकात करते हुए नाभा ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि रबी फसलों के लिए कुल 5.50 लाख मीट्रिक टन डी.ए.पी. की जरूरत है, जिसमें से अक्तूबर और नवम्बर में गेहूं की फसल की समय से बुवाई के लिए 4.80 लाख मीट्रिक टन डी.ए.पी. की जरूरत होती है जिससे गेहूं की अधिक से अधिक पैदावार को यकीनी बनाया जा सके। बताने योग्य है कि पंजाब में लगभग 35 लाख हैक्टेयर क्षेत्रफल में गेहूं बोया जाता है।


नाभा ने कहा कि पंजाब ने अक्तूबर-2021 के लिए राज्य को 1.50 एल.एम.टी. डी.ए.पी. की अतिरिक्त अलॉटमैंट संबंधी मांग भी की है और डी.ए.पी. की सप्लाई में तेजी लाई है।
बैठक के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए पंजाब के कैबिनेट मंत्री ने यह भी खुलासा किया कि केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय मंडी में उर्वरक की अनुपस्थिति के कारण ही डी.ए.पी. की कमी पैदा हुई है और केंद्र सरकार जल्द ही पंजाब को डी.ए.पी. की अपेक्षित सप्लाई यकीनी बनाएगी।


मंत्री नाभा ने कहा कि बैठक दौरान हमने यह भी मांग की कि केंद्र सरकार काले कृषि कानूनों को रद्द करे जिसके लिए किसान गत एक वर्ष से विरोध कर रहे हैं। नाभा ने कहा कि किसान असुरक्षित महसूस कर रहे हैं क्योंकि उनकी दलील है कि इन कृषि कानूनों से बड़े कॉर्पोरेट घराने उनकी कृषि भूमि को छीन लेंगे।


उन्होंने यह भी बताया कि भविष्य में नरमे की फसल को इस तरह के हमलों से बचाने के लिए राज्य द्वारा प्रसिद्ध वैज्ञानिक डा. मार्कंडेय के साथ मिलकर नवीनतम ट्यूब तकनीक अपनाई है। बैठक में वित्त आयुक्त (विकास) डी.के. तिवारी और निदेशक (कृषि) डा. सुखदेव सिंह भी मौजूद थे।
फोटो नंबर : 19सीएचडी.621.
पंजाब के कृषि, किसान कल्याण और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री रणदीप सिंह नाभा मंगलवार को केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया से मुलाकात करने के दौरान। (कुर्ल)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Taranjeet Singh

Related News

Recommended News