यहां भोलेनाथ को दूध-दही नहीं बल्कि चढ़ाए जाते हैं केकड़े

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
आज तक आप सब ने यही देखा-सुना होगी कि मंदिर में भगवान को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग चीज़ें चढ़ाई जाती हैं। जिसमें दूध, दही, मिठाईयां, पुष्य आदि शामिल होते हैं। इसके अलावा हर कोई अपनी श्रद्धा-भावना के अनुसार भगवान को खुश करने के लिए कुछ न कुछ अर्पित करता है। लेकिन क्या आप जानते हैं हमारे देश में एक ऐसा मंदिर स्थापित है जहां भोलेनाथ को खुश करने के लिए केकड़े अर्पित किए जाते हैं। जी हां, गुजरात के सूरत में स्थित रामनाथ शिव भोला मंदिर में भोलेनाथ से अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए लोग शिवलिंग पर केकड़ों का चढ़ावा चढ़ाते हैं।
PunjabKesari,  Ramnath shiv ghela temple, Surat Gujaratयहां की लोक मान्यता के अनुसार इस अजीबो-गरीब परंपरा का जिक्र रामायण में भी किया गया है। यहां के मंदिर के पुजारी का कहना है कि यहां स्वयं भगवान राम ने इस शिवलिंग को स्थापित किया था। कहते हैं कि जब श्रीराम को वनवास के दौरान इस बात का पता चला तो उन्होंने यहां विधि-विधान किया तब नदी के सारे जीव-जंतु यहां आ गए। यहां के लोगों को मानना है कि जिस किसी को शरीर संबंधी कोई बीमारी होती है तो यहां केकड़े चढ़ाने से वो दूर हो जाती है। बता दें कि अन्य दिनों की तुलना में मकर संक्रांति के दिन केकड़े चढ़ाने का अधिक महत्व है।
PunjabKesari,  Ramnath shiv ghela temple, Surat Gujarat\
हर मनोकामना पूरो होने का विश्वास ही है जो दूर-दूर से यहां भक्त आते हैं। बता दें यहां बहुत अधिक संख्या में शिवलिंग पर केकड़े चढ़ाए जाते हैं। साथ ही ये बता दें कि यहां शिवलिंग पर पूजा के दौरान चढ़ाए गए केकड़ों को सही-सलामत पास ही की तापी नदी में मंदिर के पुजारियों द्वारा विर्सजित कर दिया जाता है।
PunjabKesari, Ramnath shiv ghela temple, Surat Gujarat
शादी में दूल्हे को क्यों लगाई जाती है मेहंदी ? जानें, इसके पीछे की सच्चाई (VIDEO)

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!